मुंबई. मुंबई के शिवाजी नगर के एक बीएमसी स्कूल में आइरन की गोली खाने से 12 साल  एक बच्ची की मौत हो गई जबकि 197 बच्चों को हालत बिगड़ने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मरने वाली बच्ची का नाम चांदनी शेख रजा है. खबर है कि आइरन की गोली खाने के बाद से बच्चों को पेच दर्द, उल्टी और दस्त की शिकायत होने लगी. ऐसे में एक साथ सभी बच्चों की ये हालत देखकर स्कूल प्रशासन घबरा गया और आनन फानन में सबको अस्पताल में भर्ती कराया. 46 बच्चों की हालत काफी गंभीर बनी हुई है. इनको शताब्दी अस्पताल में शिफ्ट किया गया है.

स्कूल के सभी बच्चों को ये गोली मिड-डे मील का भोजन के बाद खिलाई गई थी. बीमार पड़ने वाले बच्चों में ज़्यादातर की उम्र आठ से दस साल हैं. मृतक चांदनी की मौत बीच रास्ते में ही हो गई थी. स्कूल में इस हादसे की खबर मिलते ही मौके पर इलाके के डीसीपी, बीएमसी के कई आला अफसर पहुंच गए हैं.

पुलिस का मानना है कि हो सकता है कि बच्चों को दी गई आइरन की गोली एक्सपायर्ड हो जिससे बच्चों के शऱीर में जहर फैल गया हो और वे अचानक गंभीर रूप से बीमार पड़ गए हो. इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर मामले की आगे जांच कर रही है.

तेल ब्रांड के विज्ञापन के लिए टाइगर श्रॉफ और दिशा पटानी ने की 5 करोड़ की मांग

स्कूल में यूनिफॉर्म बदल रहीं छात्राओं को देख रहे थे दो शिक्षक, परिजनों ने जमकर पीटा फिर किया पुलिस के हवाले

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App