नई दिल्लीः यूपीए सरकार में मंत्री रहे मणिशंकर अय्यर ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर निशाना साधा है. इस बार अय्यर ने 2002 में हुए गुजरात दंगों को याद करते हुए कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि जो व्यक्ति 2014 से पहले मुसलमानों को ‘पिल्ला’ समझता था, वह एक दिन देश का प्रधानमंत्री बन जाएगा. मणिशंकर अय्यर ने पिछले साल हुए गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले पीएम मोदी के लिए ‘नीच’ शब्द का इस्तेमाल किया था.

मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘मैंने नहीं सोचा था कि 2014 के पहले एक मुख्यमंत्री जो मुस्लिमों को पिल्ला समझता है, जब पूछा गया कि आपको दुख है क्या कि इतने मुसलमानों को जान की कुर्बानी देनी पड़ी 2002 में. उन्होंने कहा, एक पिल्ला भी गाड़ी के नीचे आ जाए तो दिल में चोट लगती है.’

मणिशंकर अय्यर ने आगे कहा, ‘मैंने सोचा कि जिस आदमी ने ऐसा कहा, जो 24 दिन मुसलमानों के रिफ्यूजी कैंप में नहीं गया और अहमदाबाद मस्जिद उस दिन पहुंचा जब पीएम अटल बिहारी वाजपेयी आए और उनके साथ जाना मजबूरी था, सोचा ही नहीं था कि ऐसा व्यक्ति देश का प्रधानमंत्री बन सकता है.’

गौरतलब है कि पिछले साल हुए गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी के खिलाफ ‘नीच’ शब्द का इस्तेमाल किया था. इसके बाद पीएम मोदी ने उनके बयान को ही पूरे गुजरात चुनाव के दौरान प्रचार में इस्तेमाल किया. कांग्रेस ने फौरन डिफेंस मोड में आते हुए मणिशंकर अय्यर को पार्टी से निलंबित कर दिया था.

मणिशंकर अय्यर ने कहा- भारत में मुझे जिनती नफरत मिली, उतना ही प्यार पाकिस्तान से मिला है

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App