लाहौर. पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ का चौंकाने वाला बयान सामने आया है. पाकिस्तान की एआरआई न्यूज से बातचीत में परवेज मुशर्रफ ने कहा कि वे आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (LeT) के सबसे बड़े समर्थक हैं. उन्होंने कहा कि मैं जानता हूं कि वह लोग भी मुझे पसंद करते हैं और साथ ही आतंकी संगठन जमात-उत-दावा के लोग भी मुझे बेहद पसंद करते हैं.

इसके अलावा आतंकी हाफिज सईद को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि ‘मैंने उनसे मुलाकात की है’. मुशर्रफ ने कहा कि वह हमेशा से कश्मीर में भारतीय सेना के दबाव को कम करने के पक्ष में रहे हैं. उन्होंने LeT को कश्मीर में सबसे बड़ी एक्टिव फोर्स भी बताया है. उन्होंने भारत पर अमेरिका के साथ मिलकर LeT को आतंकी संगठन घोषित करवाने का आरोप भी लगाया.

मुशर्रफ के इस बयान से एक बार फिर साफ हो गया है कि पाकिस्तान न सिर्फ आतंकवाद का समर्थक है बल्कि उसका सबसे बड़ा पनाहगार भी है. गौरतलब है कि हाल ही में पाकिस्तान की अदालत ने 10 माह से नजरबंद रहे आतंकी हाफिज सईद को निर्दोष बताकर हुए रिहा कर दिया है. भारत में हुए 26/11 हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद इस साल जनवरी से नजरबंद था. वहीं बीते शनिवार को व्हाइट हाउस ने बयान दिया कि आतंकी हाफिज का इस तरह से रिहा किया जाना इस बात का सबूत है कि पाकिस्‍तान आतंक के खिलाफ मुकदमे में विफल रहा है. बयान में कहा गया कि पाकिस्तान में आतंकी हाफिज की रिहाई से हमें उसके अंतरराष्‍ट्रीय आतंकवाद के खिलाफ लड़ने की बात पर शक होने लगा है.

पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की बेटी दीना वाडिया का निधन, न्यूयार्क में ली अंतिम सांस

पाकिस्तानी संसद ने सोमवार को कानून बदला, मंगलवार को नवाज़ शरीफ PML (N) चीफ बन गए

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर