नई दिल्ली: क्रिकेट के मैदान से राजनीति के रेड कार्पेट तक का सफर तय करने वाले पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने की राह खत्म होने ही वाली है. इमरान खान के पीएम बनने के बाद भारत और पाकिस्तान के रिश्ते कैसे रहेंगे, इस पर चर्चाएं चारों तरफ चल रही हैं. भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान कपिल देव से जब ये सवाल पूछा गया कि क्या इमरान खान के नेतृत्व में भारत-पाकिस्तान के रिश्ते बेहतर होंगे और क्या फिर एक बार दोनों देशों के बीच क्रिकेट शुरू हो पाएगा? इस पर कपिल देव ने कहा कि इमरान अपने देश की सेना से भारत के साथ अच्छे रिश्तों पर बात करें और फिर दोनों देशों की सरकार क्रिकेट को लेकर फैसला करे.

एबीपी न्यूज को दिए इंटरव्यू में 25 साल पहले वाले इमरान खान के बारे में बताते हुए कपिल देव कहते हैं कि वे अपनी टीम को लेकर काफी अग्रेसिव रहते थे. कई बार वे अपने साथी खिलाड़ियों के लिए गाली निकाल देते थे लेकिन अपनी अपोजिशन वाली टीम को कभी गाली नहीं निकाली. वे कहते हैं कि इमरान खान एक अच्छे टीम लीडर थे. पाकिस्तान के खिलाड़ियों को इकट्ठा करना बहुत बड़ी चुनौती थी लेकिन उन्होंने इसमें कामयाबी पाई. इमरान खान में देश के लिए लड़ने का जज्बा था. उन्हें बहुत कम समय में ही कप्तानी मिल गई थी जिसे उन्होंने बखूबी निभाया.

मैं सिर्फ क्रिकेट के बारे में ही बात कर सकता हूं. उन्होंने 25 साल राजनीति में कड़ी मेहनत की. इस मेहनत के बल पर ही वे यहां तक पहुंचे हैं. जब कपिल देव से सवाल किया गया कि इमरान खान प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं ऐसे में क्या वे इमरान खान से अपील करेंगे कि भारत- पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज बहाल होनी चाहिए. इसपर उन्होंने कहा कि पहले दोनों देशों के रिश्ते सही होने चाहिए. दोनों देशों के रिलेशन बेहतर होते हैं तो जरूर सीरीज होनी चाहिए. दोनों देशों की पॉलिसी ऐसी होनी चाहिए कि रिश्ते बेहतर हों. इमरान खान बहुत बार भारत आए हैं और क्रिकेट खेले हैं. ऐसे में उम्मीद है वे इस पर जरूर गौर करेंगे.

कपिल देव को लेकर जब उनसे पूछा गया कि उनकी पूर्व पत्नी रेहम खान ने अपनी किताब में इमरान खान को ड्रग एडिक्ट बताया है. क्या उनके समय में भी ऐसी कोई चर्चा थी. एक खिलाड़ी ने भी उनके ड्रग्स लेने का दावा किया है. इस पर कपिल देव ने कहा कि हमें पॉजिटिव बातों पर बात करनी चाहिए. आज उन्हें देश की आवाम ने इस पद तक पहुंचाया है. क्रिकेट के वक्त भी उनमें देश के लिए लड़ने का जज्बा था जोकि आज भी है. उनसे अपेक्षा की जानी चाहिए कि वे आवाम की उम्मीदों पर भी खरा उतरें.

गौरतलब है कि इमरान खान और कपिल देव दोनों एक साथ खेल चुके हैं. कपिल देव भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रहे हैं जबकि इमरान खान पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान रहे हैं. 1992 में इमरान खान की कप्तानी में ही पाकिस्तान ने क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता था जबकि 1983 में कपिल देव की कप्तानी में भारत ने वर्ल्ड कप जीता था. 

पाकिस्तान चुनाव में इमरान खान, शाहबाज शरीफ, बिलावल भुट्टो भुट्टो, आसिफ अली जरदारी, अब्बासी समेत 10 बड़े नेताओं की हार-जीत का हाल

पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने जा रहे इमरान खान की जीत पर पहले और अब की तीन बीवियों ने क्या कहा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर