नई दिल्ली: देशभर में लगातार बढ़ते जा रहे प्रदूषण के स्तर को देखते हुए राजधानी दिल्ली के बाद हरियाणा सरकार ने भी पटाखों की बिक्री पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है. राजस्थान, ओडिशा और चंडीगढ़ में भी पटाखों की खरीद-बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. इस वक्त देश के कई हिस्सों में धूल की मोटी चादर है जिसकी वजह से लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है लिहाजा सरकार की तरफ से पटाखों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया गया है.

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने पटाखों की बिक्री पर बैन लगाने का आदेश जारी करते हुए कहा कि कोरोना काल के बीच बढ़ते प्रदूषण स्तर को देखते हुए सरकार ने पटाखों की बिक्री पर बैन लगाने का फैसला किया है. इससे पहले केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में भी पटाखों पर प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया गया था. चंडीगढ़ प्रशासन ने आदेश जारी किया था कि पटाखों की बिक्री पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगी और प्रशासन इस बात को सुनिश्चित करेगा कि किसी भी तरह से बाजार में पटाखे ना उतरने पाएं.

माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में देश के दूसरे राज्यों में भी पटाखों को लेकर बैन की घोषणा हो सकती है क्योंकि देश के कई राज्य किसानों द्वारा पराली जलाए जाने की वजह से धुएं के गुबार में सांस लेने पर मजबूर हैं. राजधानी दिल्ली में भी पटाखों की बिक्री पर रोक लगी हुई है. खुद सीएम अरविंद केजरीवाल ने लोगों से पटाखे ना जलाने की अपील की है साथ ही ये भी कहा है कि हम लक्ष्मी पूजन कर एकसाथ दिवाली मनाएंगे. गौरतलब है कि देशभर में 14 नवंबर को दिवाली का त्योहार मनाया जाने वाला है जिसमें जमकर आतिशबाजी होती है. देश में बढ़ते प्रदूषण के स्तर को देखते हुए लोगों से अपील की जा रही है कि वो पटाखे ना जलाएं.

Firecrackers Banned In Delhi: दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के चलते सीएम अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में पटाखों की बिक्री पर लगाया बैन

Delhi Election 2020: भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने अपने विवादित ट्वीट में कहा, 8 फरवरी को दिल्ली में होगा हिंदुस्तान और पाकिस्तान के बीच मुकाबला

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर