पटना: आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं क्योंकि उनपर जेल से बीजेपी विधायक ललन पासवान को फोन करने के खिलाफ उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी गई है. खुद ललन पासवान ने लालू यादव के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. दूसरी तरफ लालू यादव को रांची के 1 कैली बंगले से राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज यानी रिम्स में भर्ती कराया गया है. लालू यादव को रिम्स के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती किया गया है.

लालू यादव के खिलाफ दर्ज एफआईआर में उन्हें जेल से ललन सिंह को फोन कर प्रलोभन देने आरोप लगा है. हिंदुस्तान आवामी मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने कहा कि लालू यादव ने फोन पर उनसे भी बात करने की कोशिश की थी लेकिन उन्होंने बात नहीं की क्योंकि उन्हें पता था कि लालू यादव के इरादे गलत हैं. गौरतलब है कि दो दिन पहले बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने एक नंबर साझा करते हुए ट्वीट किया था और लालू यादव पर आरोप लगाया था कि वो एनडीए विधायकों को फोन कर मंत्री पद का लालच देकर अपने खेमे में मिलाने की कोशिश कर रहे हैं. यही नहीं सुशील मोदी ने कहा था कि लालू यादव नीतीश सरकार को गिराने की साजिश रच रहे हैं.

इस बीच ललन पासवान जो बीजेपी विधायक हैं उन्होंने कहा कि लालू यादव ने उन्हें फोन पर कहा कि अगर वो उनसे मिल जाते हैं तो वो उन्हें मंत्री बना देंगे. बतौर ललन सिंह लालू यादव ने उनसे कहा कि वो स्पीकर के चुनाव प्रक्रिया में शामिल ना हों और अप्सेंट हो जाएं. लालू यादव के पास फोन कहां से आया इस सवाल के जवाब में जेल सुपरिटेंडेंट हामिद अख्तर ने कहा कि लालू यादव जेल में नहीं बल्कि केली बंगले में पुलिस हिरासत में है लिहाजा ये प्रशासन की जिम्मेदारी है.

Lalu Yadav NDA MLA: सुशील मोदी ने लालू यादव पर लगाया एनडीए विधायकों को तोड़ने का आरोप, कहा- फोन कर मंत्री बनाने का लालच दे रहे हैं लालू

Bihar Election Result 2020 Final Result: बिहार में एनडीए ने 125 सीटों पर दर्ज की एतिहासिक जीत, महागठबंधन 110 सीटों पर सिमटा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर