मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच लड़ाई खत्म होने की बजाय बढ़ती ही जा रही है. कंगना सोशल मीडिया के जरिए लगातार उद्धव ठाकरे पर व्यक्तिगत हमले कर रही हैं. कंगना ने उद्धव ठाकरे को वंशवाद का नमूना बताते हुए सोनिया गांधी तक कह डाला. अग्रेसिव पॉलीटिक्स करने वाली शिवसेना कंगना के लगातार हमलों से तिलमिलाई हुई है वहीं कंगना भी उसी अंदाज में लगातार शिवसेना प्रमुख पर हमला बोल रही है. कंगना के ऑफिस में हुई तोड़फोड़ के बावजूद कंगना शांत होने का नाम नहीं ले रही हैं. दरअसल कंगना ने शिवसेना को चुनौती दी थी कि वो 9 सितंबर को मुंबई आ रही हैं क्या उखाड़ लोगे. इसके जवाब में शिवसेना के मुखपत्र सामना में आज छपे लेख में लिखा गया ‘उखाड़ दिया’

उद्धव ठाकरे से पंगा कंगना के लिए महंगा साबित होता दिख रहा है. विक्रोली पुलिस में कंगना के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है जिसमें कहा गया है कि कंगना ने सीएम शिवराज के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया. इसके बाद कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. कंगना के मामले में अब राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी भी एक्टिव हो गए हैं और उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के मुख्य सलाहकार अजेय मेहता से चर्चा करते हुए इस पूरे प्रकरण पर नाराजगी जताई है. राज्यपाल कोश्यारी इस विषय पर केंद्र को एक रिपोर्ट देने वाले हैं.

गुरुवार को कंगना ने ट्वीट कर उद्धव ठाकरे पर फिर निशाना साधा. कंगना ने लिखा ‘तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं मगर सम्मान तुम्हें खुद कमाना पड़ता है, मेरा मुंह बंद करोगे मगर मेरी आवाज मेरे बाद सौ फिर लाखों में गूंजेगी, कितने मुंह बंद करोगे? कितनी आवाज़ें दबाओगे? कब तक सच्चाई से भागोगे तुम कुछ नहीं हों सिर्फ वंशवाद का एक नमूना हो.’

Kangana Ranaut vs Shiv Sena: शिवसेना से विवाद से पहले कंगना रनौत को भेजा गया था अवैध निर्माण का नोटिस, कोर्ट में था मामला

Kangana Ranaut Office Demolition: बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना के दफ्तर पर बीएमसी की तोड़फोड़ पर लगाई रोक, याचिका पर जवाब दाखिल करने का दिया आदेश