नई दिल्लीः केरल में आई बाढ़ में आर्थिक सहायता को लेकर केंद्र सरकार का कहना है कि 600 करोड़ रुपये की रकम अग्रिम सहायता थी. राज्य में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए केंद्र की ओर से और भी मदद की जाएगी. केंद्र ने कहा कि नुकसान के आकलन के बाद अतिरिक्त आर्थिक मदद दी जाएगी. आपको बता दें कि केंद्र सरकार का यह बयान उस समय आया है जब उन्होंने अरब अमीरात द्वारा केरल को 10 करोड़ अमेरिकी डॉलर की मदद की पेशकश की थी और सरकार ने इसके लिए मना कर दिया था. जिसको लेकर काफी विवाद भी हो रहा है.

सरकार द्वारा जारी बयान में कहा गया कि यह केंद्र द्वारा जारी किए गए 600 करोड़ केवल अग्रिम सहायता थी. नुकसान के आकलन के बाद एनडीआरएफ की तरफ से अतिरिक्त सहायता प्रदान की जाएगी. आपको बता दें कि केरल में आई में भयानक को देेखते हुए सरकार की तऱफ से 600 करोड़ की आर्थिक मदद की घोषणा की गई थी जिसमें 500 करोड़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने और 100 करोड़ की घोषणी गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने की थी. सरकार की तरफ से कहा गया कि प्रधानमंत्री लगातार केरल की स्थिति पर नजर बनाए रखे हैं और सीएम के संपर्क में हैं.

बता दें कि केरल में आई भयानक बाढ़ ने करीब 400 लोगों की जान ले ली जबकि लाखों लोगों को बेघर कर दिया. राज्य के हालातों को देखते हुए देश भर से आर्थिक सहायता के आगे आए. तमम राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी केरल की आर्थिकक सहायता करने का ऐलान किया. 

यह भी पढ़ें- केरल बाढ़: UAE के 700 करोड़ ठुकराने हैं तो राज्य को 2600 करोड़ दे नरेंद्र मोदी सरकार: CPI

केरल बाढ़: सीएम पिनराई विजयन बोले- नरेंद्र मोदी सरकार को लेनी चाहिए UAE की 700 करोड़ की मदद

 

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App