पोरबंदर. गुजरात के पोरबंदर में भारतीय तट रक्षक के क्षेत्रीय जिला हेडक्वार्रटर ने एक निर्देश जारी किया है जिसमें जल सेना के ऐसे तट रक्षकों को सब्सिडी वाली शराब देने पर पाबंदी लगा दी गई है जिनका वजन औसत से ज्यादा है. इस ऑर्डर का टाइटिल है- औसत से अधिक वजन वाले कर्मचारियों के लीकर इश्यू पर रोक. ये ऑर्डर गुजरात के पोरबंदर के कोस्ट गार्ड जिले के हेडक्वॉर्टर नंबर-1 के अधिकारियों और सेलरों के लिए है.

इस मामले के जानकार दो अधिकारियों ने बताया कि ये ऑर्डर पूरे देश में नहीं बल्कि इसी हेडक्वॉर्रटर के लिए है. उन्होंने बताया कि इस कदम का मुख्य मकसद है कि तट रक्षक स्वस्थ और तंदरुस्त रहें. पिछले सप्ताह जारी हुए इस ऑर्डर के अनुसार- तट रक्षकों के मोटापे को घटाने और उन्हें स्वस्थ तंदरुस्त बनाए रखने के लिए तत्काल प्रभाव से उन्हें सब्सिडी वाली शराब देने पर पाबंदी लगाई जाए. जिले के हेडक्वॉर्टर नंबर-1 के डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल आईएस चौहान द्वारा हस्ताक्षर किए गए इस ऑर्डर में कहा गया है कि अगर तट रक्षक अपनी सेहत पर ध्यान देंगे और उसमें सुधार करेंगे तो इस पाबंदी को हटाया जा सकता है. उनकी फिटनेस में सुधार के बाद ही उन्हें शराब इश्यू की जाएगी.

पोरबंदर हेडक्वॉर्टर नंबर 1 पर कार्यरत एक तट रक्षक ने बताया कि ये ऑर्डर अस्थाई रूप से लागु किया गया है. इसके मुख्य मकसद तट रक्षकों को फिट रखना है. वहीं लेफ्टीनेंट जनरल बीके चोपड़ा ने कहा कि फिटनेट जरूरी है और ये एक बेहतरीन कदम है.

आपकी सेक्स लाइफ तहस-नहस करके रख देंगी ये गंदी आदतें

बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने वाला युवक गर्लफ्रेंड की ख्वाहिशों को पूरा करने में बना मोबाइल झपटमार, अरेस्ट