श्रीनगर: नेशनल कांन्फ्रेंस के नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला को भारत माता की जय और जय हिंद का नारा लगाने को लेकर बदसलूकी का सामना करना पड़ा है. बुधवार को हजरतबल में नमाज अदा करने गए फारुख अब्दुल्ला के साथ धक्का-मुक्की की गई और उनके साथ बदसलुकी हुई. यहां तक की लोगों ने उनके ऊपर जूते भी उछाले लेकिन इस दौरान फाहरुख चुपचाप बैठे रहे और जब विरोध बढ़ने लगा तो वो वहां से उठकर बाहर चले गए.

बाद में फाहरुख ने पत्रकारों को दिए बयान में कहा कि अगर सिरफिरे लोगों को लगता है कि फारुख अब्दुल्ला उनकी इस हरकत से डर जाएगा तो वो गलतफहमी मे हैं. मुझे भारत माता की जय बोलने से कोई नहीं रोक सकता. उन्होंने आगे कहा कि प्रदर्शनकारियों की इन हरकत से मैं डरा नहीं हूं. मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता. भारत आगे जा रहा है और कश्मीर को भी अपने पैरों पर खड़ा होने पड़ेगा.

हालांकि फारुख अब्दुल्ला ने विरोध के समय को लेकर जरूर आपत्ति दर्ज की. उन्होंने कहा कि अगर विरोधियों को मेरा विरोध ही करना था तो कोई दूसरा समय और जगह चुन लेते, कम से कम नमाज के वक्त उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था.

दरअसल फारुख अब्दुल्ला ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की श्रद्धांजलि सभा के दौरान भारत माता की जय और जय हिंद के नारे लगाए थे जिसकी वजह से कश्मीर के कुछ लोगों ने उनका विरोध किया और उनसे बदसलूकी की.

शरिया अदालतों के पक्ष में उतरे पूर्व उप-राष्ट्रपति हामिद अंसारी, कहा- देश के सभी समुदायों को अपना पर्सनल लॉ मानने का अधिकार

पाक सेना प्रमुख से गले मिलने पर नवजोत सिंह सिद्धू पर भड़के पंजाब CM कैप्टन अमरिंदर सिंह, बोले- इसका हमसे कोई लेना-देना नहीं

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App