नई दिल्ली : कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर में 12-3 बजे तक चला चक्का जाम अब खत्म हो गया है. खास बात यह रही कि किसानों का यह प्रदर्शन शांतिपूर्वक खत्म हुआ है और कहीं भी किसी तरह की हिंसा की कोई खबर सामने नहीं आयी. वहीं किसान नेता राकेश टिकैत ने चक्का जाम खत्म होने के बाद किसानों को संबोधित किया है और देशभर में आंदोलन जारी रहने की बात एक बार फिर दोहराई है. साथ ही उन्होंने कहा है कि सरकार कृषि क़ानूनों को वापस ले और MSP पर क़ानून बनाए नहीं तो आंदोलन जारी रहेगा और हम पूरे देश में यात्राएं करेंगे और पूरे देश में आंदोलन होगा.

दरअसल, कृषि कानूनों की वापसी पर अभी तक सरकार और किसानों के बीच कोई हल नहीं निकला है. इसके चलते उन्होंने किसान आंदोलन को जारी रखने की बात कही है. उन्होंने यह भी कहा है कि सरकार को किसानों से नहीं व्यापारियों से लगाव है. वहीं दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर राकेश टिकैत ने कहा है कि राजधानी में एक-एक कील काटी जाएगी. उन्होंने अपने संबोधन में कहा, हमने सरकार को कानून वापस लेने के लिए 2 अक्टूबर तक का समय दिया है. इसके बाद, हम आगे की योजना बनाएंगे. हम दबाव में सरकार के साथ बातचीत नहीं करेंगे.

बता दें कि किसान 71 दिनों से राजधानी दिल्ली की सड़कों पर धरना दिए बैठे हैं. इस कड़ी में आज प्रदर्शनकारी किसानों ने देशभर में चक्का जाम का ऐलान किया था. जो अब शांतिपूण तरीके से खत्म कर दिया गया है. लेकिन, सरकार और देश के किसानों के बीच का गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है. एक तरफ, सरकार बातचीत के लिए तैयार है, लेकिन किसान अब भी अपनी मांग पर अड़े हुए हैं.

Farmers Protest Latest Update : यूपी और उत्तराखंड को छोड़कर समूचे देश में किसानों का चक्का जाम, ‘रोटी तिजोरी में बंद न हो, ये उसका आंदोलन’ बोले राकेश टिकैत

Ghazipur Border Latest Update : देशभर में किसानों का ‘चक्का जाम, गाजिपुर बॉर्डर पर शांति, राकेश टिकैत ने कहा- बवाल हुआ तो देंगे दंड

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर