नई दिल्ली. किसान नेता राकेश टिकैत शनिवार को भरतपुर में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि केंद्र सरकार द्वारा किसानों की मांगों को न मानने पर 16 राज्यों को बिजली की लाइन काटने की धमकी दी. 

टिकैत ने आगे कहा केंद्र में कोई सरकार नहीं है, जबकि व्यापारी देश पर शासन कर रहे हैं. उन्होंने सभी सरकारी संस्थानों को बेच दिया है और देश के लोगों को उन्हें सरकार से बाहर निकालने की जरूरत है. संसद या विधानसभा में पूर्ण बहुमत मिलने पर कोई भी दल तानाशाह बन जाता है. केंद्र सरकार किसानों की जमीन बेचने की योजना बना रही है, जबकि जनता बेरोजगारी और भुखमरी का सामना कर रही है.

मुझे लगता है कि किसान आंदोलन पांच या छह महीने तक जारी रहेगा. यह लोकतंत्र के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है कि कोई विरोध नहीं है. सड़क पर किसानों की हलचल आदर्श रूप से संसद में लड़ी गई होती यदि विपक्ष जीवित होता, ”टिकैत ने कहा कि संसद या विधानसभा में पूर्ण बहुमत मिलने पर कोई भी पार्टी तानाशाह हो जाती है. केंद्र सरकार किसानों की जमीन बेचने की योजना बना रही है, जबकि जनता बेरोजगारी और भुखमरी का सामना कर रही है. मुझे लगता है कि किसान आंदोलन पांच या छह महीने तक जारी रहेगा. यह लोकतंत्र के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है कि कोई विरोध नहीं है. अगर विपक्ष जिंदा होता तो सड़क पर किसानों की हलचल आदर्श रूप से संसद में लड़ी जाती.

Holi 2021 : होली की मस्ती में कही तोड़ न दें ट्रैफिक नियम नहीं तो भरना पड़ सकता है हजारों का जुर्माना

Phones Battery Blast : मोबाईल की बैटरी फटने से 12वीं कक्षा के छात्र की हुई मौत, कही आप भी तो नहीं कर रहे ये गलती

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर