नई दिल्ली. अमेरिकी टेक एक्सपर्ट सैय्यद शुजा ने सोमवार को दावा किया था कि ट्रांसमीटर के जरिए ईवीएम हैक की जा सकती है और 2014 लोकसभा चुनाव बीजेपी ईवीएम से छेड़छाड़ कर जीती थी. लंदन में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में शुजा ने दावा किया कि दिल्ली विधानसभा चुनावों में भी उसने आम आदमी पार्टी के लिए ईवीएम को हैक किया था. मामले के तूल पकड़ने के बाद चुनाव आयोग ने मंगलवार को दिल्ली पुलिस से इस मामले में एफआईआर दर्ज कर बयान की जांच करने को कहा है. आयोग ने कहा, सैय्यद शुजा नाम के शख्स ने कथित तौर पर कहा कि वह ईवीएम डिजाइन टीम का हिस्सा था और वह भारत में इस्तेमाल होने वाली ईवीएम मशीनों को हैक कर सकता है. सैय्यद शुजा की प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल भी मौजूद थे.

इंडियन जर्नलिस्ट असोसिएशन (यूरोप) ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया था. शुजा ने दावा किया कि उसकी टीम में 14 लोग हैं और उनकी मदद से ही ईवीएम को हैक किया गया है. सनसनीखेज दावों में शुजा ने कहा कि हैकिंग के लिए दिवंगत केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे ने उनसे संपर्क किया था. इस धांधवी में बीजेपी के अलावा कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, बसपा और अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी भी शामिल है. उसने कहा कि हैकिंग के कारण उस पर हमले भी हो चुके हैं, जिस कारण उसने अमेरिका में शरण ली हुई है.

चुनाव आयोग ने उसके इस दावे को खारिज कर दिया था. खुलासे के बाद चुनाव आयोग ने कहा कि मतदान के लिए जिन ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल होता है, वे पूरी तरह सुरक्षित हैं. एक्सपर्ट्स की निगरानी में मशीनों को तैयार किया जाता है. चुनाव आयोग ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस को प्रायोजित करार दिया था.

Ravi Shankar Prasad on EVM Hacking: ईवीएम हैकिंग के दावे पर भड़के रविशंकर प्रसाद, बोले- कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल वहां क्या कर रहे थे?

Amit Shah In Malada: पश्चिम बंगाल के मालदा में गरजे अमित शाह, बोले- ममता बनर्जी सरकार को सत्ता से उखाड़ फेकेंगे

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App