नई दिल्ली. Miss universe 2021 दुनियाभर को अपनी 2021 मिस यूनिवर्स मिल गई है. इस साल यह ख़िताब भारत के 21 वर्षीय हरनाज कौर संधू ने अपने नाम किया है. यह प्रतियोगिता इजराइल में आयोजित की गई थी. हरनाज कौर संधू को मिस यूनिवर्स 2020,एंड्र‍िया मेजा ने अपने हाथो से मिस यूनिवर्स का ख़िताब पहनाया और उन्हें बधाई दी. मिस यूनिवर्स का ख़िताब कौन जीतेगा इसको लेकर लोग उत्सुक तो रहते ही हैं साथ ही लोग इस ख़िताब के साथ मिलने वाली लग्जरी सुविधाएं के बारे में भी जानना चाहते हैं. तो आइए इस ख़िताब के बारे में जानते है.

मिस यूनिवर्स का ताज समय-समय पर बदला गया है. इसकी कीमत हर साल बदलती रहती है. हरनाज कौर संधू को अबतक का सबसे महंगा ताज मिला है. उनके इस ताज की कीमत 5 मिलियन यूएस डॉलर है जोंकि भारतीय करेंसी के अनुसार 37,8790, 000 रुपये होगी यानी 37 करोड़ से अधिक।

ताज की ख़ासियत

यह ताज प्रकृति, ताकत, खूबसूरती, नारीत्व और एकता से प्रेर‍ित है. इस ताज को 18 कैरेट गोल्ड, 1770 डायमंड्स सेंटरपीस में शील्ड-कट गोल्डन कैनरी डायमंड जिसका वजन 62.83 कैरट है से तैयार किया गया है. इस ताज में पत्तियों पंखुड़‍ियां और लताओं के डिजाइंस, सात महाद्वीपों के सुमदायों को र‍िप्रेजेंट करती है. 

मिस यूनिवर्स को क्या-क्या मिलता हैं?

मिस यूनिवर्स आर्गेनाईजेशन कभी भी मिस यूनिवर्स के प्राइस मनी का खुलासा नहीं करता। ख़बरों के मुताबिक यह लाखों में होती है. इस यूनिवर्स को न्यूयॉर्क स्थ‍ित मिस यून‍िवर्स अपार्टमेंट में एक साल के लिए रहने की इज़ाज़त होती हैं. इस दौरान उन्हें सभी सुख-सुविधाएं जैसे कि खाना-पीना, ट्रांसपोर्ट सब कुछ मुफ्त में दिया जाता है.

मिस यूनिवर्स का ताज मिलने के बाद इसके लिए एक एग्रीमेंट होता है, जिसमें बताया गया होता है कि उसे मिस यूनिवर्स अपने पास रखेंगी या फिर लौटा देंगी। हलाकि ज़्यादातर मिस यूनिवर्स इसे अपने पास रखना पसंद करती हैं.

स्कॉलरशिप

मिस यूनिवर्स बनने पर उन्हें स्कॉलरशिप दी जाती है. यह स्कॉलरशिप विजेता को न्यूयार्क फिल्म एकेडमी की तरफ से विजुअल परफॉर्मिंग आर्ट में दी जाती है साथ ही विजेता का मॉडलिंग पोर्टफोलियो भी बनाया जाता है. स्कॉलरशिप के अलावा मिस यूनिवर्स को मेकउप आर्टिस्ट की टीम दी जाती हैं, जो एक साल तक उनके साथ रहकर अलग-अलग इवेंट्स में हिस्सा लेते है. मिस यूनिवर्स को मिस यूनिवर्स आर्गेनाईजेशन की चीफ अंबेसडर के रूप में कई इवेंट्स, प्रेस-कांफ्रेंस भी करनी पड़ती हैं.

यह भी पढ़े: 

काशी में हर-हर महादेव और बम-बम भोले की गूंज

Kisan Andolan किसानों ने आत्मसम्मान हासिल किया, राजनैतिक रूप से मजबूत हुए : यादव

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर