प्रयागराज. कुंभ मेले की धूम इस समय पूरे प्रयागराज में बड़ी ही उत्साह के साथ मची हुई. इस पावन कुंभ मेले के लिए देश के कौने-कौने से लाखों की तादात में श्रद्धालुओं सहित साधु संतों का जमावड़ा लगा हुआ है. ऐसे में इस कुंभ मेले के दौरान हजारों लोग नागा साधु बने हैं. दरअसल इन नागा साधुओं की चौंकाने वाली बात यह है कि इनमें से अधिकतर लोग इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट में ग्रेजुएशन किए हुए हैं.

गौरतलब है कि कुंभ मेले के दौरान होने वाले दीक्षा समारोह के तहत 10 हजार लोगों ने नागा साधु बनने का उपदेश लिए हैं. जिनमें पुरुष और महिलाएं शामिल हैं. ऐसे में मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नागा साधु बने 29 साल के शंभु गिरी यूक्रेन से मैनजेमेंट में ग्रेजुएशन किए हुए हैं. वहीं दूसरी ओर बात करें 27 साल के रजत कुमार राय के बारे में जो नागा साधु बने हैं. रजत ने बताया है कि वह कच्छ से मरीन इंजीनिरिंग में डिप्लोमा प्राप्त किए हुए. जिसके आधार पर रजत के पास अच्छी नौकरी पर थी जिसके लिए उनको अच्छा वेतन भी मिलता था. लेकिन रजत ने संसार की मोह माया को त्यागकर नागा साधु बनने का फैसला लिया. इसके अलावा ऐसे नागा साधु हैं, उम्र 18 साल है और उनका नाम घनश्याम गिरी है. बता दे कि घनश्याम उज्जैन से कक्षा 12वीं के टॉपर रहे हैं.

आपको बता दे कि इस कुंभ मेले के दौरान सोमवार को मौनी अमावस्या के खास अवसर पर इन सभी नए बने नागा साधुओं ने डुबकी लगाई. तो वहीं भारत के हिंदू संतों और साधुओं के उत्तम संगठन अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (एबीएपी) के अधीन इन लोग को नागा साधु बनाया गया है.

Kumbh Mela 2019: सीआईआई का दावा- कुंभ मेले से योगी आदित्यनाथ सरकार को होगा 1.2 लाख करोड़ का फायदा, 6 लाख नई नौकरियां

Kumbh Mela 2019: जानिए कब है कुंभ 2019 का दूसरा शाही स्नान, किस दिन शुरू होगा कल्‍पवास

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App