नई दिल्ली: झारखंड की वरिष्ठ आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल और उनके परिवार पर ईडी का शिकंजा कसता जा रहा है. बीते दिन प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा को समन भेजकर पूछताछ के लिए एयरपोर्ट रोड स्थित ईडी कार्यालय में बुलाया। वहां दिल्ली पुलिस के अधिकारी पहले से रिमांड पर लिए गए पूजा के चार्टर्ड अकाउंटेंट सुमन सिंह से पूछताछ कर रहे थे. अभिषेक झा के ईडी कार्यालय पहुंचने एक बाद ईडी ने दोनों को आमने-सामने बैठाकर करीब आठ घंटे तक पूछताछ की। दोनों से अधिकारीयों ने करीब 60 सवाल पूछे गए.

अभिषेक से पूछे गए ये सवाल

1- बरियातू स्थित पल्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के निर्माण में अब तक कितने पैसे खर्च हुए।
2- खर्च की गई राशि कहां-कहां से आई।
3- अस्पताल निर्माण पर हुए खर्च के दस्तावेज कहां है.
4- प्रवर्तन निदेशालय ने अभिषेक से पूछा कि पूजा सिंघल का अस्पताल में प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से सहभागिता रही है या नहीं।

बताया जा रहा है कि अभिषेक झा ईडी के सवालों से काफी परेशान थे. दूसरी तरफ पूजा सिंघल के CA सुमन सिंह से पूछा गया कि छापेमारी में जब्त 19.31 करोड़ रुपए कहां से आए, ये पैसे किसके हैं और इन पैसों का स्रोत क्या है। जानकारी के मुताबिक CA भी ईडी को गोल-मटोल जवाब दे रहा था. दोनों से ईडी ने करीब आठ घंटे तक पूछताछ की और 60 सवाल पूछे। ईडी की पूछताछ के बाद जैसे ही अभिषेक झा बाहर निकले तो उन्हें मीडियाकर्मी घेरने लगे. इस पर अभिषेक झा दिवार फांदकर अपनी गाडी में बैठे और वहां से नो दो ग्यारह हो गए. रविवार को हुई पूछताछ में ईडी के साथ आयकर विभाग के इन्वेस्टिगेशन यूनिट के अधिकारी भी शामिल थे, जिन्होंने पूजा के पति से कई दस्तावेज मांगे।

IAS के खाते में वेतन से 1.43 करोड़ ज्यादा राशि, CA के खाते में 16.57 लाख ट्रांसफर

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कहा कि पूजा सिंघल के बैंक खातों में वेतन से 1.43 करोड़ ज्यादा राशि मिली थी। साथ ही ईडी ने बताया कि उन्हें यह रकम तीन जिलों में डीसी रहने के दौरान मिली। प्रवर्तन निदेशालय ने CA का रिमांड लेने के दौरान कोर्ट को यह जानकारी दी है। ईडी ने कोर्ट को बताया कि सिंघल ने 2007-2013 के दौरान बैंक खातों में जमा रकम से 13 बीमा पॉलिसी खरीदी और इसके लिए 80.81 लाख रुपए प्रीमियम का भुगतान किया। लेकिन बाद में उसे समय से पहले बंद कर दिया गया. सिंघल ने 2015-17 के बीच 16.57 लाख रुपए तीन खातों में ट्रांसफर किए। ये तीनों खाते सुमन से संबंधित थे।

यह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर