सुकमा. छत्तीसगढ़ के सुकमा में सीआरपीएफ की नक्सलियों से भयंकर मुठभेड़ जारी है. इस मुठभेड़ में सीआरपीएफ के दो जवान शहीद हुए हैं और दो गांव वाले मारे जाने की खबर है. बताया जा रहा है कि नक्सलियों ने सीआरपीएफ की 12 गाड़ियों को आग लगा दी. इस फायरिंग में सात जवानों के घायल होने की खबर आ रही है. सुकमा नक्सल प्रभावित एरिया है और यहां अकसर नक्सलियों से सेना की मुठभेड़ सामने आती रहती है. लेकिन यह मुठभेड़ इस साल की पहली सबसे बड़ी मुठभेड़ है. नक्सलियों द्वारा एक रोड कंस्ट्रक्शन कंपनी के मैनेजर की हत्या कर दी गई है. दोनों तरफ से भारी फायरिंग हो रही है. 

इस एनकाउंटर में एक नक्सली भी मारा गया. एंटी नक्सल ऑपरेशन के स्पेशल डीजी डीएम अवस्थी ने बताया कि नक्सलियों ने सुबह 11 बजे रोड कंस्ट्रक्शन की सुरक्षा में लगे जवानों पर हमला किया. इसके बाद घंटों तक मुठभेड़ जारी रही. इस एनकाउंटर में एक नक्सली भी मारा गया. 

एंटी नक्सल ऑपरेशन के स्पेशल डीजी डीएम अवस्थी ने बताया कि नक्सलियों ने सुबह 11 बजे रोड कंस्ट्रक्शन की सुरक्षा में लगे जवानों पर हमला किया. बताया जा रहा है कि वारदात की सूचना मिलते ही भेज्जी थाने से डीआरजी, सीआरपीएफ एवं कोबरा बटालियन का संयुक्त बल घटनास्थल की ओर रवाना हुआ था. इस संयुक्त बल की ग्राम एलमागुड़म के पास घात लगाए नक्सलियों से मुठभेड़ हो गयी. मुठभेड़ में सात जवान घायल हो गए हैं. सात जवानों की घायल होने की पुष्टि करते हुए बस्तर रेंज के उप पुलिस महानिरीक्षक पी सुंदरराज पी ने बताया कि घायल जवानों को भेज्जी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में उपचार के बाद हेलीकाप्टर से रायपुर रेफर किए जाने की तैयारी चल रही है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App