नई दिल्ली। इस बार ईद का त्योहार 3 मई यानि मंगलवार को मनाया जाएगा. सऊदी अरब में रविवार को चांद नहीं दिखने के कारण अब कल ईद मनाई जाएगी. इसी के साथ आज रमजान का आखिरी और सबसे लंबा रोजा रखा जाएगा, जो 15 घंटे 11 मिनट का होगा. ईद (ईद उल फितर) मुस्लिम लोगों के लिए बहुत बड़ा त्योहार माना जाता है. ईद-उल-फितर एक ऐसा त्योहार माना जाता है जो भाईचारे और शांति का संदेश लेकर आता है. वहीं पिछले दो साल से कोरोना पाबंदियों का सामना कर रहे लोग इस बार ईद पर जमकर खरीदारी कर रहे हैं. ईद की वजह से देशभर के बाजारों में चहल-पहल है और सभी में लोगों की भीड़ उमड़ने लगी है.

उत्तर प्रदेश में ईद उल फितर से पहले वाराणसी के बाजारों में लोगों की भारी भीड़ है. लोग आज से ही खरीदारी करने लगे हैं. एक दुकानदार ने कहा, ‘पिछले दो साल की तुलना में इस साल हमारा काम अच्छा चल रहा है. बाजारों में खरीदारी के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं.

पूर्व-ईद (भारत में ईद उल फितर) का उछाल तेलंगाना में भी शुरू हो गया है. ईद से एक दिन पहले हैदराबाद के पुराने शहर की गलियों में ‘अत्तर’ (इत्र) की दुकानें सड़कों पर उमड़ती नजर आ रही हैं. वहां के एक दुकानदार ने बताया कि हर कोई अपने धर्म की परवाह किए बिना परफ्यूम का इस्तेमाल करता है, जिससे लोग ईद से पहले खूब खरीदारी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि पिछले दो साल मुश्किल भरे रहे लेकिन इस बार रमजान के दौरान कारोबार अच्छा चल रहा है. वहीं हैदराबाद के चारमीनार बाजार में ही व्यंजन और कपड़े की खरीदारी के लिए ग्राहकों की भारी भीड़ लगी हुई है.

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर