Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 

 Green Tea पीने के फायदे जानकर, आज से पीना कर देंगे शुरू

0
Green tea benefits: ग्रीन टी (Green tea) से होने वालों फायदों को लेकर तमाम दावे किए जाते हैं. कुछ लोग कहते हैं कि ग्रीन...

इन सवालों से समझें पूरे गुजरात चुनाव का गणित: क्यों AAP का दिल्ली मॉडल...

0
गाँधीनगर: यदि गुजरात में इस ऐतिहासिक भाजपा जीत के पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के अलावा कोई महत्वपूर्ण कारण है, तो वह है...

Himachal Election Result 2022: अन्य के खाते में आई 3 सीटे, जाने किसने की...

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है।कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

हिमाचल से जीतने के बाद कांग्रेस विधायकों की चंडीगढ़ में बैठक, राजस्थान या छत्तीसगढ़...

0
नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक दल की बैठक चंडीगढ़ में होगी। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पहले यहां चंडीगढ़ में जीते हुए विधायक...

Himachal Election Result 2022: कांग्रेस ने मारी बाजी, जाने हर सीट के नतीजे

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है। कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

Sanjay Raut के जांच में सहयोग ना करने पर घर पहुंची ED की टीम, पूछताछ जारी..

मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय ने रविवार यानी आज शिवसेना राज्यसभा सांसद संजय राउत के आवास पर छापा मारा है. खबरों के मुताबिक शिवसेना नेता संजय राउत जांच में सहयोग नहीं कर रहे है, जिसके चलते ईडी की टीम ने राउत के घर पहुंच गई है. बता दें कि संजय राउत पात्रा चॉल जमीन घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रवर्तन निदेशालय का सहयोग ना कर रहे है. जिसके बाद अब ईडी ने सांसद के घर पर जा कर ही दावा बोल दिया है.

पहले भी हो चुकी पूछताछ

गौरतलब है कि इससे पहले 20 जुलाई को ईडी ने सांसद राउत को पूछताछ के लिए बुलाया गया था. लेकिन दिल्ली में चल रहे संसद के मानसून सत्र का हवाला देकर वह ईडी अधिकारियों के समक्ष मौजूद नहीं हुए थे. बीते सप्ताह राउत के वकील ने ईडी अधिकारियों से गुहार लगाई थी कि उनके मुवक्किल को अगस्त के पहले हफ्ते में समन जारी किया जाए लेकिन केंद्रीय जांच एजेंसी ने उन्हें केवल एक हफ्ते की मोहलत दी थी.

क्या है पत्रा चॉल का मामला

बता दें कि साल 2007 में गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन को चॉल विकसित करने का ठेका दिया गया था. इस योजना के तहत 47 एकड़ की जमीन पर चॉल की जगह फ्लैट बना दिया गया. समझौते के मुताबिक चॉल के निवासियों को 672 फ्लैट देना था. इसके अलावा 3,000 फ्लैट म्हाडा को देना था. समझौते के अनुसार बाकी बची जमीन पर कंस्ट्रक्शन कंपनी घर बनाकर बेच सकती थी.

हालांकि इस मामले में आरोप है कि पूरी 47 एकड़ जमीन, 1034 करोड़ रुपये में बेची गई. आरोपों है कि कंपनी ने फ्लैट नहीं बनाया. इसी मामले में ED ने प्रवीण राउत और उसके साथी सुजीत पाटकर पर केस दर्ज किया. गुरु आशीष, प्रवीण राउत, कंस्ट्रक्शन कंपनी के पूर्व निदेशक हैं. माना जाता है कि प्रवीण राउत, संजय राउत के मित्र हैं.

आरोप है कि प्रवीण की पत्नी के खाते से संजय राउत की पत्नी के खाते में पैसे ट्रांसफर हुए. वहीं सुजीत पाटकर और संजय राउत की बेटी एक ट्रेडिंग फर्म में साझेदार हैं.

Vice President Election 2022: जगदीप धनखड़ बनेंगे देश के अगले उपराष्ट्रपति? जानिए क्या कहते हैं सियासी समीकरण

Latest news