नई दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में 25 दिसंबर 2017 को पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव के परिवार के साथ हुए दुर्व्यवहार का मुद्दा उठाया. सुषमा स्वराज के बाद कुलभूषण जाधव को लेकर गुलाम नबी आजाद ने कहा जाधव की सुरक्षा की चिंता हैं.  पूरा सदन पाकिस्तान के इस व्यवहार की निंदा करता है. सुषमा स्वराज ने कहा कि इस मुश्किल की घड़ी में जाधव के परिवार के सदस्‍यों से संपर्क बनाए हुए हैं.

सुषमा स्वराज द्वारा संसद में कहीं 10 बड़ी बातें

1) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि जाधव की मां ने केवल साड़ी पहनी थी लेकिन उन्हें मजबूर किया गया कि वह सलवार-कुर्ता पहने. कुलभूषण की मां और पत्नी दोनों के बिंदी, चूड़ी और मंगलसूत्र तक को उतरवाया गया. ये सभी सामान उतरवाकर दोनों विवाहित महिलाओं को विधवाओं की तरह बनाया गया.

2) कुलभूषण जाधव की मां को मराठी में बोलने की इजाजत नहीं थी, जिस वक्त मीटिंग हो रही थी कि वहां 2 पाकिस्तानी अधिकारी मौजूद थे जो उन्हें बार-बार रोकते रहे लेकिन जब वह आगे बात करने लगी तो इंटरकॉम बंद हो गया था.

3) अगर पाकिस्तान को जूतों में चिप मिला तो मीडिया के सामने उसी समय क्यों नहीं दिखाया, हमें शक है कि पाकिस्तान जूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकता है.

4) सुषमा स्वराज ने बताया कि परिवार का कहना था कि कुलभूषण स्वस्थ नहीं लग रहे थे, ऐसा लग रहा था कि वो स्क्रिप्टेड बातें कह रहे थे.

5) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी की मुलाकात को एक प्रोपेगेंडा के तौर पर इस्तेमाल किया. हमने अपने रुख के प्रति पाकिस्तान को आगाह कर दिया.

6) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद में कहा कि कुलभूषण के परिवार के पास मीडिया को जाने की अनुमति नहीं थी लेकिन पाकिस्तानी मीडिया ने परिवार को प्रताड़ित किया.

7) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि कुलभूषण जाधव की पत्‍नी के जूतों को लेकर पाकिस्‍तान कुछ शरारत करने वाला है, यह हमें आशंका है.

8) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि कुलभूषण जाधव से मुलाकात के बाद पाकिस्‍तानी अधिकारियों ने उनकी कार को जानबूझकर रोका ताकि मीडिया उनके परिवार को तंग कर सकें और उनसे अभद्र सवाल करके परेशान किया गया.

9) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि हम आईसीजे में जाधव के मृत्युदंड को रुकवाने में कामयाब रहे, अभी उनकी जान को कोई खतरा नहीं है. अब उनके परिवार से हमारा लगातार संपर्क है.

10) विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने कहा कि कुलभूषण का परिवार जब उनसे मिलकर आया तो उन्होंने बताया कि मंगलसूत्र ना देखकर कुलभूषण ने सबसे पहले अपनी मां से पूछा था कि बाबा कैसे हैं?

Parliament Live: पाकिस्तान ने एक प्रोपगेंडा के तहत जाधव की मां और पत्नी की चूडियां-बिंदी उतरवाईं: सुषमा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर