नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस कहर बरपा रहा है। इससे एकमात्र बचाव के लिए वैक्सीन ओर जोर दिया जा रहा है। लेकिन अब एक अच्छी खबर आई है। कोरोना की एक और दवा जल्द ही बाजार में उपलब्ध होने लगेगी। जिससे कोरोना के मरीजों को काफी फायदा होने की उम्मीद है।

कोरोना वायरस से निपटने के लिए डीआरडीओ द्वारा ‘2-डीजी’ दवा तैयार की गई है. इस दवा की 10 हजार डोज का पहला बैच आज या कल में मिलने की उम्मीद है। साथ ही यह ज़ोर दिया जा रहा है कि इसका उत्पादन भी बढ़ सके ताकि भविष्य में इसकी ज़रूरतों को पूरा किया जा सके।

भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने देश में निर्मित कोविड रोधी दवा के आपात इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। मुंह के जरिए ली जाने वाली इस दवा को कोरोना वायरस के मध्यम से गंभीर लक्षण मरीजों के इलाज में इस्तेमाल करने की अनुमति सहायक पद्धति के रूप में दी गई है।

इमरजेंसी के आधार पर मंजूरी

डीआरडीओ का दावा है कि ग्लूकोज़ पर आधारित इस दवाई के सेवन से कोरोना से ग्रस्त मरीजों को ऑक्सजीन पर ज्यादा निर्भर नहीं होना पड़ेगा और जल्दी स्वस्थ हो जाएंगे। डीआरडीओ ने इस दवाई को डॉक्टर रेड्डी लैब के साथ मिलकर तैयार किया है और क्लीनिकल-ट्रायल के बाद ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने इस दवाई को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए हरी झंडी दे दी है।

2-डीजी दवा पाउडर के रूप में पैकेट में आती है, इसे पानी में घोल कर पीना होता है। वहीं ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि एक पैकेट की कीमत 500 से 600 रुपये के बीच हो सकती है। हालांकि अभी इसकी कीमत नहीं बताई गई है।

Delhi High Court On Govt : दिल्ली हाईकोर्ट की केंद्र को फटकार, ‘वैक्सीन है नहीं फिर क्यों चिढ़ पैदा करने वाली कॉलर ट्यून सुना रहे’

कोरोना मरीज को सांस लेने में हो रही है तकलीफ तो तुरंत करें से उपाय, चेस्ट फिजियोथैरेपी से कई मरीज हुए ठीक

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर