भारत में तेजी से बढ़ती कोरोना महामारी के बीच गुजरात के सूरत शहर में रहने वाले एक डॉक्टर कपल ने वर्चुअल शादी रचाकर समाज के सामने एक मिसाल पेश की है. दरअसल सुरत शहर के एक संपन्न परिवार से ताल्लुक रखने वालीं डॉक्टर नेहा पोखरणा ने हमेशा से एक ग्रैड वेडिंग का सपना देखा था. लेकिन अचानक आई इस कोरोना महामारी ने उनके सपनों को झकझोर कर रखा दिया. उन्हें लॉकडाउन, क्वारेंटीन, सोशल डिस्टेसिंग जैसी पाबंदियों से गुजरना पड़ा. इतनी सारी मुश्किलों के बावजूद डॉक्टर नेहा पोखरणा 9 दिसंबर को पहले से तय अपनी शादी को न टालने का फैसला किया. साथ ही दोनों परिवारों को वर्चुअल शादी के राजी भी कर लिया.

बता दें कि बुधवार 9 दिसंबर को डॉक्टर नेहा पोखरणा और डॉक्टर प्रबोध गर्ग ने मुंबई में वर्चुअल शादी रचा ली. इस वर्चुअल शादी की पार्टी में दोनों के करीबी दोस्त और रिश्तेदार शामिल हुए. मुंबई के एक रिसार्ट में आयोजित इस वर्चुअल शादी का हिस्सा बनने के लिए सुरत से डॉक्टर नेहा पोखरणा के घर वाले भी पहुंचे थे. अब आपके मन में यह सवाल होगा कि इस वर्चुअल शादी का निमंत्रण कैसे भेजा गया होगा. इसके पीछे भी ब़ड़ी मजेदार स्टोरी है.

दरअसल डॉक्टर नेहा पोखरणा और डॉक्टर प्रबोध गर्ग ने अपनी शादी का निमंत्रण अपने करीबी दोस्तों और रिश्तेदारों को व्हाट्सएप के माध्यम से भेजा था. इस मैसेज में दोनों कपल की ओर से कहा गया था कि कोरोना महामारी को देखते हुए हम आपसे वर्चुअल माध्यम से शादी समारोह में शामिल होने का अनुरोध करते हैं. दिए गए यूट्यूब लिंक पर क्लिक कर आप शादी समारोह का हिस्सा बन सकते हैं. बताया जा रहा है कि करीब 2 हजार लोगों ने डॉक्टर कपल की वर्चुअल शादी में हिस्सा लिया.

डॉक्टर नेहा पोखरणा ने वर्चुअल शादी के बारे में बात करते हुए कहा कि एक पैथालोजिस्ट होने के नाते मुझे कोरोना महामारी की गंभीरता का पूरा अंदाजा है. ऐसे में समाज में एक उहारण देने के लिए मैंने अपने धूमधाम वाली शादी के सपने को छोड़कर करीबी परिवार के सदस्यों की मौजूदगी में वर्चुअल शादी करने का फैसला किया. मेरे लिए मेरे परिवार और रिश्तेदारों की सेहत और सुरक्षा काफी महत्वपूर्ण हैं. डॉक्टर नेहा के पति डॉक्टर प्रबोध ने कहा कि कोरोना महामारी ने हमारी जिंदगी को अच्छे से बुरे अनुभव में बदल दिया है. लेकिन हमें अब यह सच्चाई स्वीकार कर आगे बढ़ना होगा. एक बार महामारी के समाप्त होने के बाद हम एक ग्रैंड रिसेप्शन करेंगे.

हालांकि कोरोना महामारी के समय हुई अनुठी शादी और इसे संभव बनाने वाले डॉक्टर कपल डॉक्टर नेहा पोखरणा और डॉक्टर प्रबोध गर्ग को गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी का भी आशीर्वाद मिला है. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने पत्र लिखकर डॉक्टर दंपत्ति को शादी की शुभकामनाएं दी.

एक युवा पावरलूम बुनकर और सशक्त समाज-सेवी नीरव सभाया की कहानी

Farmers Protest: किसानों ने ठुकराया नरेंद्र मोदी सरकार का प्रस्ताव, सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई जारी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर