नई दिल्लीः अनुसूचित जाति-जनजाति (संशोधन) विधेयक का विरोध कर रहे मशहूर कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर  का कहना है कि उन्हें अंजान नंबरों से जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं. देवकीनंदन ठाकुर के शांति सेवाधाम आश्रम के प्रबंधक गजेंद्र सिंह ने वृंदावन कोतवाली में इस मामले की तरहरीर देते हुए ठाकुर को सिक्योरिटी दिए जाने का आग्रह किया है. जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. इस केस की छानबीन कर रहे पुलिस अधिक्षक (नगर) श्रवण कुमार सिंह का कहना है कि मिली जानकारी के अनुसार देवकीनंदन ठाकुर को गोली मारने और टुकड़े-टुकड़े करने जैसी धमकियां मिल रही हैं. इसके कुछ ऑडियो-वीडियो भी उनके पास हैं.

आश्रम के प्रबंधक गजेंद्र सिंह द्वारा पुलिस को उपलब्ध कराए गए ऑडियो-वीडियो क्लिप के माध्यम से धमकी देने वाले शख्श की तलाश की जा रही है. वहीं इन सब मामलों पर देवकीनंदन ठाकुर का कहना है कि वह अब पीछे हटने वाले नहीं है. बता दें कि देवकीनंदन ने यह बात बुधवार को विदेश के लिए रवाना होने से पहले कही. इसी मुद्दे के लिए अखंड भारत मिशन का गठन हुआ है. 

उन्होंने आगे कहा कि हम किसी व्यक्ति विशेष अथवा किसी समाज के खिलाफ नहीं है. लेकिन यदि एक वर्ग का भला करने के चक्कर में दूसरे वर्ग के लोगों को हानि पहुंचाई जाति है या उनके आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाए जाने की कोशिश की जाएगी तो उसका विरोध अवश्य किया जाएगा. आपकोे बता दें कि देवकीनंदन ठाकुर मशहूर भागवत वाचक हैं. 

यह भी पढ़ें- एससी-एसटी एक्ट का विरोध कर रहे कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले गिरफ्तार, कहा- ये लोकतंत्र की हत्या है

राम मंदिर पर साध्वी प्राची की बीजेपी को 2019 चुनाव की धमकी- राम टाट में, नेता एसी में, परीक्षा ना ले मोदी सरकार

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App