DDMA metting tomorrow

नई दिल्ली. DDMA metting tomorrow  मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल कोरोना से उबरकर ठीक हो गए है. उन्होंने प्रदेशवासियों ने कहा कि कोरोना की रफ़्तार जिस तरह बढ़ रही है, यह चिंता का विषय है लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है. उन्होंने खुद कोरोना के आकड़ो की स्वास्थ्य मंत्री के साथ समीक्षा की है, और इससे घबराने की जरूरत नहीं है. उन्होंने बताया कि पिछले साल जब राजधानी में 20000 केस आते थे, तो प्रदेश में एक भी बेड मिलना मुश्किल होता था , लेकिन इस समय लगभग आधे से ज़्यादा बेड खाली है. वहीँ राजधानी दिल्ली में कल कोरोना के 20000 से अधिक मामलें सामने आए थे, जिसके बाद प्रदेश में कोरोना का पॉजिटिविटी रेट 19 फीसदी के ऊपर चला गया है. कल DDMA कबी बैठक बुलाई गई है.

लॉकडाउन पर अभी फैसला नहीं- अरविन्द केजरीवाल

अरविन्द केजरीवाल ने प्रदेश के लोगों से कहा यदि लोग लॉकडाउन नहीं चाहते है, तो उन्हें कोरोना नियमो का सख्ती से पालन करना होगा और मास्क, सोशल डिस्टैन्सिंग का पर ध्यान देना होगा। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन की वजह से व्यापारियों, कारोबारियों और छोटे दर्जे पर काम करने वाले लोगो को परेशानी होतो है. सरकार खुद अभी लॉकडाउन नहीं करना चाहती है लेकिन यदि लोग कोरोना नियमो का पालन नहीं करेंगे तो सरकार को मजबूरी में यह फैसला लेना पड़ सकता हैं.

DDMA की बैठक कल

मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बताया कि सरकार और स्वास्थ्य मंत्रलाय कोरोना के आकड़ो पर नजर बनाए हुए हैं. कल इसपर सरकार और DDMA की बैठक होनी है, जिसके बाद कुछ नए फैसले प्रदेश में लागू हो सकते है. उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार की ओर से राज्य को पूरी मदद मिल रही है और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री कोरोना के आकड़ो पर प्रदेश में नजर रखे हुए है.

यह भी पढ़ें:

Rain in Delhi: दिल्ली एनसीआर में आधी रात से लगातार बारिश, सड़कों पर जलभराव

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर