दिल्ली. DELHI POLLUTION NEWS : राजधानी दिल्ली में प्रदुषण को लेकर राहत भरी खबर सामने आई है. पराली की घटनाए पिछले साल के मुकाबले इस साल बहुत कम दर्ज की गई है. दशहरा के आते आते राजधानी दिल्ली की हवा पराली के चलते जानलेवा हो जाती है और एयर क्वालिटी इंडेक्स 500 तक राजधानी में पहुँच जाता है. पंजाब और हरियाणा में पराली से दिल्ली सरकार चिंतित है और हर साल प्रदूषण के स्थर को काम करने के लिए दे;लहि सरकार अनेको कदम उठाती है.

पराली घटनाओं में कमी

बता दें दिल्ली सरकार ने दिल्ली से जुड़े राज्यों के किसानो को पराली को व्यवस्थित करने और उसे सही ढंग से नष्ट करने के लिए कई कदम उठाए है. दिल्ली सरकार के इस कदम से पराली घटनाओं के स्थर में पहले के मुकाबले काफी सुधर आया है. पंजाब, हरियाणा और यूपी के आठ जिलों में साल 2020 की तुलना में इस साल कई गुना कमी आई है. पिछले एक महीने में 1795 पराली जलाने की घटनाएं दर्ज की गईं, जबकि 2020 के दौरान इसी अवधि में 4854 मामले दर्ज किए गए थे.

खबरों के मुताबिक धान जलाने के मामलों में पिछले साल की तुलना इस साल कमी आई है. हरियाणा में 18.28 फीसदी उत्तरप्रदेश के 8 जिलों में 47.41 फीसदी और पंजाब में 69.49 फीसदी कमी आई है, जो राजधानी दिल्ली के लिए अच्छी खबर है. दिल्ली सर्कार ने पराली नियंत्रण के लिए विशेष कण्ट्रोल रूम और हेल्पलाइन नंबर बनाया है.

 

यह भी पढ़े: 

JAMMU KASHMIR: पुंछ में सर्च ऑपरेशन के दौरान घायल हुए 2 जवान शहीद,आंतकियों के खिलाफ सेना का सर्च ऑपरेशन जारी

Accident in Jhansi श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्राली पलटी, 11 की मौत

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर