नई दिल्ली: पांच साल में दिल्ली की सड़कों से पांच सौ लग्जरी कार चुराने वाले सुपर चोर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है. सफरुद्दीन नाम का ये सूपर चोर गाड़ियां चुराने के लिए हैदराबाद से दिल्ली की फ्लाइट पकड़ता था और काम होने पर वापस हैदराबाद लौट जाता था.

इस दौरान लग्जरी कारों के सॉफ्टवेयर, जीपीएस और लॉकिंग सिस्टम को तोड़ने के लिए वो अपने साथ लैपटॉप और हाई टेक गैजेट भी लेकर चलता था. मूल रूप से दिल्ली के नंद नगरी का रहने वाला सैफुद्दीन कार चुराने के बाद उसे पंजाब, हरियाणा, यूपी और दूसरे राज्यों में बेचकर चंपत हो जाता था ताकि पुलिस उस तक पहुंच ही ना पाए.

दिल्ली पुलिस के डीसीपी राजेश रॉव ने न्यूज एजेंसी आईएएनएस को बताया है कि पूछताछ के दौरान आरोपी ने कबूल किया कि उसने हर साल 100 कारें चुराने का टार्गेट बनाया था और पिछले पांच सालों में वो पांच सौ कार चुरा चुका है.

डीसीपी रॉव के मुताबिक इंस्पेक्टर नीरज चौधरी और सब-इंस्पेक्टर कुलदीप ने 3 अगस्त को गुरुग्राम के पास एक कार को रोका. पूछताछ के दौरान पता चला कि गाड़ी में मौजूद शख्स एक लाख का ईनामी सूपर चोर सफरुद्दीन है. हालांकि सफरुद्दीन ने वहां से भागने की कोशिश की लेकिन पुलिस टीम ने उसका पीछा किया और करीब 50 किलोमीटर पीछा करने के बाद प्रगति मैदान के पास से उसे गिरफ्तार किया.

पूछताछ के दौरान उसने बताया कि कैसे वो लग्जरी कार को चुराता था. 5 जून को सफरुद्दीन और उसके चार साथियों ने विवेक विहार में पुलिस पार्टी पर गोलियां भी चलाई थी. इस शूटआउट में उसका साथी नूर मोहम्मद मारा गया था जबकि रवा कुलदीप नाम का एक और साथी गिरफ्तार हुआ था.

अमेरिका: एयरपोर्ट पर खड़े अलास्का एयरलाइंस का प्‍लेन ले उड़ा चोर, केटरन टापू के पास हुआ क्रैश

उत्तर प्रदेशः चोर होने के शक में मॉब लिंचिंग का शिकार हुआ युवक, पीट-पीटकर मार डाला

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App