नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में कोरोना का विस्फोट हो रहा है. दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से 1000 से 1200 के करीब नए केस आ रहे थे लेकिन पिछले 24 घंटों में राजधानी दिल्ली में रिकॉर्ड 1366 केस आए हैं जिससे दिल्ली में कोरोना संक्रमित लोगों की कुल संख्या 31,309 हो गई है. दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी कोरोना बुलेटिन के अनुसार राजधानी दिल्ली में मंगलवार को 1,366 नए मामले सामने आए. फिलहाल दिल्ली के अस्पतालों में 18,543 कोरोना मरीजों का इलाज चल रहा है. हालांकि राहत की बात ये है कि कोरोना के 11,861 मरीज ठीक भी हुए हैं.

दिल्ली सरकार की मानें तो आने वाले दिनों में कोरोना संक्रमण के मामले में दिल्ली की स्थिति बद से बदतर होने वाली है. दिल्ली सरकार दबी जुबान में बोल रही है कि कोरोना दिल्ली में तीसरे चरण में हैं और यहां कम्यूनिटी स्प्रेड हो रहा है, हालांकि केंद्र सरकार ये मानने को तैयार ही नहीं है. मंगलवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ मीटिंग के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि 30 जून तक दिल्ली में एक लाख, 15 जुलाई तक 2 लाख और 31 जुलाई तक साढ़े 5.5 लाख कोरोना संक्रमण के मामले होंगे. उन्होंने ये भी कहा कि 31 जुलाई तक हमें कम से कम 80 हजार बेड की जरूरत होगी.

इससे पहले दिल्ली सरकार ने फैसला किया था कि दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ दिल्ली वालों का इलाज होगा लेकिन अलगे ही दिन राज्यपाल अनिल बैजल ने दिल्ली सरकार के उस फैसले को पलट दिया. अब दिल्ली के अस्पतालों में देश के किसी भी हिस्से से आए मरीज का इलाज हो सकता है. दिल्ली के अस्पतालों की हालत बेहद खराब है. दिल्ली सरकार के आंकड़ों पर यकीन करें तो दिल्ली को 60 दिन में 52 हजार कोरोना बेड की व्यवस्था करनी होगी.

Jyotiraditya Scindia Corona Positive: ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनकी मां माधवी राजे सिंधिया कोरोना पॉजीटिव, मैक्स अस्पताल में भर्ती

Delhi Corona Update: सरकार के मुताबिक 31 जुलाई तक दिल्ली में 5.5 लाख होगी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या, कितनी तैयार है राजधानी?

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर