नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राज्य के स्वास्थ विभाग के अधिकारियों को चेताते हुए कहा है कि यदि मोहल्ला क्लीनिक परियोजना के तहत समुचित सेवा मुहैया नहीं करायी गयी तो अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक मुकदमा भी दायर हो सकता है. बता दें कि आप की मोहल्ला क्लीनिक योजना का उद्देश्य दिल्ली की जनता को बेसिक स्वास्थ सुविधाएं दी जाएं. बता दें कि दिल्ली में कुल 188  मोहल्ला क्लीनिक है.

आम आदमी पार्टी के ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया गया जिसमें केजरीवाल एक कार्यक्रम में बैठ कर मोहल्ला क्लीनिक के अधिकारियों को चेतावनी दे रहे हैं. वीडियो के कैप्शन में लिखा था- जो अफसर फाइलों पर बैठे रहते हैं, वे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इस संदेश पर ध्यान दें. फाइलों पर बैठे न रहें या तो काम करें या फिर आपराधिक मामले में पड़ने के लिए तैयार हो जाएं. आप सरकार मोहल्ला क्लीनिक के काम काज और दवाइयों में कमी को बिलकुल बर्दाश्त नहीं करेगी.

ये बातें अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सचिवालय में मंगलवार को स्वास्थ अधिकारियों से कहीं. उन्होंने कहा कि काम में कोताही पर मैं आपराधिक मामला दर्ज करने की हद तक जा सकता हूं. बता दें कि मोहल्ला क्लीनिक को लेकर कई तरह की शिकायतें आईं थी जिनमें क्लीनिक बंद होने, दवा न उपलब्ध होने जैसी चीजें थीं.

सर्वे: अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी, नवीन पटनायक सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री, टॉप 3 में बीजेपी का कोई सीएम नहीं

रणदीप सूरजेवाला बोले- कांग्रेस के खून में ब्राह्मण समाज का डीएनए, राहुल गांधी को बताया शिव भक्त

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App