श्रीनगरः आपको जम्मू-कश्मीर का कठुआ गैंगरेप-मर्डर केस तो याद होगा. वही मामला जिसमें एक मासूम बच्ची के साथ कई दिनों हैवानियत का खेल खेला गया. उसे खाने के बदले नशीली दवाइयां दी गईं. पुलिस ने इस मामले में 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया था. अब खबर आई है कि मुख्य आरोपी संजीराम के वकील असीम साहनी को जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने एडिशनल एडवोकेट जनरल नियुक्त किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, मंगलवार को कानून विभाग द्वारा हाईकोर्ट के जम्मू विंग के लिए एडिशनल एडवोकेट जनरल, एडवोकेट जनरल और सरकारी वकीलों की सूची जारी की गई थी. इस लिस्ट में असीम साहनी का नाम 7वें नंबर पर था. इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘कठुआ मामले की सुनवाई पंजाब के पठानकोट में चल रही है. मैं 2 जुलाई से उस केस में पेश नहीं हुआ हूं और और अब आगे भी नहीं जाऊंगा. मैं इस मामले में सिर्फ चैंबर काउंसलर रहा हूं.’

असीम साहनी ने यह भी साफ किया कि उनके पिता इस मामले में मुख्य वकील हैं. उनकी नियुक्ति पर उठ रहे सवालों पर उन्होंने जवाब देते हुए कहा, ‘एक वकील के तौर पर किसी भी पक्ष की पैरवी करना मेरा पेशा है. क्या वकील आतंकवादियों के केस लड़ना बंद कर देते हैं? नहीं, वह ऐसा नहीं करते हैं और अदालत यह फैसला करती है कि दोषी कौन है. ये फैसला जनता नहीं करती.’ नियुक्ति को लेकर उन्होंने किसी भी तरह के हितों के टकराव से इनकार किया.

असीम साहनी की नियुक्ति पर राज्य के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने कड़ी नाराजगी जताई है. वहीं AIMIM के नेता और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भी साहनी की नियुक्ति पर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने कहा कि कठुआ में 8 साल की मुस्लिम बकरवाल लड़की की गैंगरेप के बाद हत्या के मुख्य आरोपी के वकील असीम साहनी को राज्य प्रशासन ने एडिशनल एडवोकेट जनरल नियुक्त किया है. प्रधानमंत्री मोदी के बेटी बचाओ, ट्रिपल तलाक और मुस्लिम महिलाओं को उनके अधिकार दिलाने के सभी वादे झूठे हैं.

क्या है कठुआ गैंगरेप-हत्या केस?
इसी साल जनवरी में जम्मू-कश्मीर के घुमंतु बकरवाल समुदाय की 8 साल की बच्ची कठुआ के एक गांव से गायब हो गई थी. करीब एक हफ्ते बाद पास के जंगल से बच्ची का शव बरामद किया गया था. जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की. जांच में पता चला कि बच्ची को अगवा कर उसे नशीली दवाएं खिलाकर उसके साथ गैंगरेप किया गया और बाद में उसका कत्ल कर दिया गया. इस मामले में पुलिस ने 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया था. एक आरोपी पुलिस वाला है. पुलिस ने 7 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी है, जबकि एक नाबालिग आरोपी के खिलाफ स्थानीय अदालत में अलग से चार्जशीट दाखिल की गई है.

kathua rape case: कठुआ गैंगरेप का नाबालिग आरोपी निकला एडल्ट, चलेगा वयस्क की तरह बलात्कार का केस

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App