नई दिल्ली. अयोध्या के राम मंदिर-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट कुछ ही देर में फैसला सुनाएगा. इससे पहले प्रदेश सहित देश कई बड़े शहरों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. वहीं प्रसिद्ध अजमेर दरगाह दीवान ने लोगों से शांति बनाए रखने और अदालत के फैसले का सम्मान करने की अपील की है. दरगाह दीवान जैनुल आबेदीन चिश्ती ने देश के लोगों से आग्रह किया है कि जो लोग राजनीतिक रूप से संवेदनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले के फैसले के पक्ष में हों वह न जश्न मनाएं और नहीं कोई निराश हो.

अजमेर दरगाह दीवान ज़ैनुल आबेदीन चिश्ती ने भी लोगों से यह सुनिश्चित करने की अपील की है कि हर कोई सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करे. इसके साथ ही अजमेर दरगाह दीवान ने कहा कि मुसलमानों और देश के अन्य धर्मों के लोगों को अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रखते हुए सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का सम्मान करना चाहिए.

दरगाह दीवान ने कहा कि फैसला चाहे किसके पक्ष में हो देश में शांति और अमन कायम रहना चाहिए. सुप्रीम कोर्ट से उम्मीद की जाती है कि वह शनिवार को अयोध्या टाइटल सूट में अपना फैसला सुनाएगा, जिसे राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद केस भी कहा जाएगा. इससे पहले, यह सुनिश्चित करने के प्रयास किए जा रहे हैं कि देश में शांति और सांप्रदायिक सद्भाव कायम रहे.

अयोध्या में सुरक्षा के कडे इंतजाम किए गए हैं और केंद्र ने 4000 अर्धसैनिक कर्मियों और 30 बम स्क्वॉड को भी अयोध्या में लगाया है. अयोध्या में सभी धर्मशालाओं को बंद करने का निर्देश दिया गया है और सभी गैर-स्थानीय लोगों को शहर छोड़ने के लिए कहा गया है. इसके साथ ही सीसीटीवी और ड्रॉन कैमरों से भी सुरक्षा पर ध्यान दिया जा रहा है.

ये भी पढें

Ayodhya Ram Mandir Court Verdict: सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले छावनी में तब्दील हुई अयोध्या, UP के 31 जिलों में बनाई गई अस्थाई जेल, भारत-नेपाल बॉर्डर सील

Ayodhya Ram Mandir Court Verdict Priyanka Gandhi: अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले बोलीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी- ये गांधी का देश है, अमन और अंहिसा हमारा कर्तव्य

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App