नई दिल्ली. चक्रवात यास ने एक भयंकर रुख अख्तियार कर लिया है और तेजी से ओडिशा के दक्षिण में बालासोर के पास बढ़ रहा है। इसके चलते पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कई जिलों में भारी बारिश हो रही है।

तूफान यास थोड़ी ही देर में ओडिशा-बंगाल के तट के पास टकराने की आशंका है। आईएमडी के मुताबिक, तूफान जब तट से टकराएगा, तब 130-140 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है।

मौसम विभाग के अनुसार सुबह 9 बजे से लैंडफॉल की प्रक्रिया जारी है। चक्रवात यास के टकराने के पहले से बाद तक करीब छह घंटे तक इसका असर रहेगा।

यास तूफान के खतरे को देखते हुए समंदर किनारे रहने वालों को सुरक्षित जगह पर भेजा गया है। एनडीआरएफ की टीमें स्थानीय लोगों को तूफान के खतरे से आगाह कर रही है। बालासोर के पास के चांदीपुर में समंदर के किनारे से लोगों को हटाने के लिए मरीन पुलिस भी एनडीआरएफ के साथ हो गई है।

क्या है ‘यास’ का मतलब

 ‘यास’ एक अरेबिक शब्द है जिसका अर्थ है ‘निराशा’। ओमान देश ने इस तूफान को ये नाम दिया है। दरअसल ये तूफान ओमान की तरफ से आया है। इससे बंगाल और ओडिशा में भारी बारिश की आशंका है।

India Covid Latest Updates : पिछले 24 घण्टों में कोरोना से 4,157 लोगों की मौत, 2 लाख के पार नए केस, पीएम मोदी ने किया देश को संबोधित

Subodh Kumar Appointed CBI Director : 1985 बैच के महाराष्ट्र कैडर के IPS सुबोध कुमार जायसवाल चुने गए CBI के नये डायरेक्ट

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर