मुंबई. भारतीय रिजर्व बैंक की पंजाब और महाराष्ट्र (पीएमसी) बैंक से 6 महीने में 1 हजार रुपए से ज्यादा की निकासी पर रोक लगाने के बाद खाताधारकों का गुस्सा सातवें आसमान पर है. मुंबई में गुरुवार को खाताधारकों के एक प्रतिनिधि-मंडल ने मिलकर बैंक के चेयरमैन और निदेशकों पर लोगों के पैसे का गलत इस्तेमाल करने के आरोप लगाते हुए सेंट्रल मुंबई के सायन पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया. प्रतिनिधि-मंडल ने बैंक से जुड़े 14 लोगों के खिलाफ शिकायत करते हुए पुलिस जल्द कार्रवाई और उनके पासपोर्ट सीज करने की मांग की है जिससे वे देश के बाहर न भाग सकें.

पीएमसी अकाउंट होल्डर्स के डेलिगेशन की मांग है कि बैंक के चेयरमैन और सभी निदेशक ग्राहकों के फंड का गलत तरीके से इस्तेमाल करने का पूरा लिखित ब्योरा दें. इस मामले में पुलिस अधिकारी ने बताया कि खाताधारकों के एक प्रतिनिधि-मंडल की लिखित शिकायत उन्हें मिली है. पूरी तरह जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

आपक बता दें कि बैड लोन और वित्तीय गड़बड़ी को लेकर आरबीआई ने पंजाब और महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक के खातों से अगले 6 महीने तक सिर्फ 1 हजार रुपये से ज्यादा की निकासी पर प्रतिबंध लगा दिया है. यानी बैंक के खाताधारक किसी भी तरह के अकाउंट से अगले 6 महीने तक सिर्फ 1000 रुपए ही निकाल सकते हैं. हालांकि, तय रकम से ज्यादा निकासी पर रोक लगाने के साथ-साथ भारतीय रिजर्व बैंक ने यह भी साफ कर दिया है कि बैंक का लाइसेंस कैंसिल नहीं किया गया है.

RBI Restriction PMC Bank 1000 Cash Withdrawals: पंजाब और महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक खाता से 6 महीने में सिर्फ 1 हजार निकलेंगे, लोगों ने पूछा- कैसे करें खाना, पढ़ाई, इलाज, शादी का खर्च

EPFO PF Interest Rate 8.65 Percent: नरेंद्र मोदी सरकार का बड़ा फैसला, वित्त वर्ष 2018-19 के लिए EPF पर मिलेगा 8.65 फीसदी ब्याज, 6 करोड़ अंशधारकों को फायदा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर