नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने 5 चालू ऑटो लिफ्टरों के एक गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो चोरी की गाड़ियों को लुटेरों और स्नैचर्स को किराए पर दिया करते थे. इस मामले पुलिस ने अभी तक पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों के पास से चोरी की गाड़िया भी बरामद की गई है, जिनकी कीमत तकरीबन 40 लाख रुपये बताई जा रही है. पुलिस के मुताबिक चोरी की कुल 45 गाड़ियां कब्ज़े में की गई है. थाना सुल्तानपूरी की टीम ने कड़ी मेहनत के बाद इस गिरोह का भंडाफोड़ किया है.

पुलिस की टीम ने स्नैचिंग, लूटपाट व अन्य सड़क अपराधों की बढ़ती घटनाओं को मद्देनज़र रखते हुए, इलाके में घूमने वाले युवाओं पर कड़ी निगरानी रखना शुरू कर दिया. पुलिस टीम ने पूर्व में शामिल व जेल से रिहा अपराधियों पर सतर्क नजर रखना चालू कर दिया. टीम ने इस बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए खुफ़िआ मुखबिरों को भी तैनात किया।

मिली गुप्त जानकारी के आधार पर पुलिस ने चोरों की धरपकड़ शुरू कर दी. गिरफ्तार हुए आरोपियों ने कई खुलासे किए. आरोपियों ने बताया कि उनका पांच व्यक्तियों का एक गिरोह हैं. इतना ही नहीं उन्हें बिना चाबी के किसी भी गाड़ी का ताला तोड़ने में महारत हासिल है. पकड़े गए सभी आरोपी पार्क किए गए गाड़ियो की रेकी करने के लिए दिल्ली के विभिन्न इलाकों में घूमते रहते है. पुलिस ने इस गैंग के पास से कुल 45 चोरी की गाड़िया बरामद की है. और आगे की तहकीकात जारी है.

य़ह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर