नई दिल्ली : 16 जनवरी से देशभर में कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण अभियान शुरु हो चुका है. जिसके तहत, अबतक देशभर के 6.31 लाख कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन दी जा चुकी है. लेकिन हैरान और परेशान करने वाली बात यह है कि टीकाकरण के पहले चरण के छठे दिन तक देशभर में तकरीबन 600 लोगों में कोरोना वैक्सीन का साइड इफेक्ट देखने को मिला है. इस बीच स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट के बारे में बोलते हुए कहा कि कोरोना वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है.

दरअसल, कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट के मामलों को देखते हुए लोगों में डर का महौल बन रहा है. इसलिए डॉ. हर्षवर्धन ने लोगों को विश्वास दिलाया है. उन्होंने कहा है कि सच्चाई यही है कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित और प्रभावी है. अभी तक जो भी साइड इफेक्ट के मामले सामने आए हैं, वो सामान्य हैं. वैक्सीनेशन से पहले ही कुछ साइड इफेक्ट के बारे में बताया गया था. किसी भी वैक्सीनेशन में ऐसा होता है.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आगे कहा, कोरोना को अगर जड़ से खत्म करना है तो वैक्सीन लगवाना जरूरी है. ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग राजनीतिक फायदा लेने के लिए वैक्सीनेशन को लेकर गलत बातें फैला रहे हैं. उन्होंने कहा कि इसका असर कई जगह पर देखने को मिला है और कुछ लोग वैक्सीन लगवाने में कतरा रहे हैं. सरकार बिल्कुल भी किसी की सेहत के साथ खिलावाड़ नहीं करेगी. सभी को सुरक्षित रखना हमारी जिम्मेदारी है.’

बता दें कि 16 जनवरी 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरुआत की थी. इस अभियान में सीरम इंस्टिट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन से लोगों को टीका लगया जा रहा है. टीकाकरण के दौरान हर व्यक्ति को कम से कम 14 दिन के अंतराल में वैक्सीन के दो शॉट दिए जाएंगे. गौरतलब है कि कोरोना टीकाकरण अभियान के पहले दिन 2,07,229, दूसरे दिन 17,072, तीसरे दिन 1,48,266, चौथे दिन 1,77,368 कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन दे गई थी.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर