नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस महामारी का हाहाकार जारी है. इस जानलेवा वायरस से देश में संक्रमित लोगों की संख्या 18 हजार के पार पहुंच गई है. भारत में 15 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हैं जबकि करीब 3 हजार लोग इस बीमारी को मात देकर पूरी तरह सेहतमंद होकर अपने घर लौट गए हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, लॉकडाउन से पहले भारत में वायरस के फैलने का आंकड़ा 3 से 4 दिन में डबल हो रहा था जो अब बढ़कर 7.5 पहुंच गया है. यह एक राहत की सांस जरूर है. दूसरी ओर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने लॉकडाउन के नियमों में थोड़ी ढील देने का फैसला किया है. कुछ समय पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 मार्च से ढील देने की घोषणा की थी.

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि पुडुचेरी के माहे, कर्नाटक के कोड़ागु और उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में पिछले 28 दिनों से एक भी मामला कोरोना पॉजिटिव नहीं आया है. पिछले 14 दिनों देश के 59 जिलों में एक भी केस सामने नहीं आया है, वहीं गोवा राज्य एक बार फिर पूरी तरह कोरोना फ्री हो गया है.

गृह मंत्रालय ने 20 मार्च सोमवार से कई क्षेत्रों में कुछ शर्तों और नियमों के साथ लोगों को काम करने की इजाजत दी है. साथ ही फसल कटाई को लेकर किसानों को राहत मिली है. खेती से जुड़े कार्यों को सरकार ने इजाजत दे दी है. हालांकि, ई कॉमर्स कंपनियों अभी जरूरी सामान के अलावा किसी चीज की डिलीवरी नहीं कर सकेंगी. बैंक और पोस्ट ऑफिस सेवाएं जारी रहेंगी.

Yogi Adityanath Father Dies: पिता आनंद सिंह बिष्ट की मौत के बीच भी कर्तव्य को नहीं भूले सीएम योगी आदित्यनाथ, कोरोना लॉकडाउन के चलते नहीं होंगे अंतिम संस्कार में शामिल

UP 10th 12th Study on Doordarshan: यूपी में लॉकडाउन के दौरान टीवी देखकर पढ़ाई करेंगे 10वीं और 12वीं के छात्र, दूरदर्शन पर होगा प्रसारण

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर