नई दिल्ली. इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने अब घर पर कोविड टेस्ट करने की इजाजत दे दी है। यह एक होम बेस्ड टेस्टिंग किट है। जोकि रैपिड एंटीजन टेस्टिंग (RAT) किट है. इसका इस्तेमाल कोरोना के हल्के लक्षण वाले या संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हुए लोग कर सकते हैं।

इस किट के जरिये लोग घर में ही नाक के जरिए कोरोना जांच के लिए सैंपल ले सकेंगे. इसके बाद इसकी तस्वीर खिंच कर कंपनी को भेजनी होगी. इसके लिए एप डाउनलोड करना होगा।

ऐसे करेगा काम

होम टेस्टिंग के लिए गूगल प्ले स्टोर और ऐपल स्टोर से मोबाइल में ऐप डाउनलोड करना होगा. जिस व्यक्ति को कोरोना के लक्षण हैं या जो कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आया है, वह अपने मोबाइल पर इस एप को डाउनलोड करेगा. टेस्ट स्ट्रिजप से नाक में स्वैब का सैंपल निकालकर तस्वीर खिंचनी होगी. इसके बाद इस तस्वीर को एप के जरिए कंपनी को भेजनी होगी। मोबाइल फोन का डाटा सीधे आईसीएमआर के टेस्टिंग पोर्टल पर स्टोर हो जाएगा।

वहीं इस टेस्ट के ज़रिए जिनकी पॉजिटिव रिपोर्ट आएगी उन्हें पॉजिटिव माना जायेगा और किसी टेस्ट की जरूरत नहीं पड़ेगी. जो लोग पॉजिटिव होंगे उन्हें होम आइसोलेशन को लेकर आईसीएमआर और हेल्थ मिनिस्ट्री की गाइडलाइन को मानना होगा. लक्षण वाले जिन मरीजों का रिजल्ट निगेटिव आएगा उनको आरटीपीसीआर करवाना होगा।

ये टेस्ट वही कर सकते हैं जिनके अंदर किसी भी तरह के कोरोना के लक्षण होंगे या जो आरटीपीसीर में कंफर्म पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आया हो।

PM Cares Fund Ventilator : पीएम केयर फंड से मंगाए गए वेंटिलेटर फांक रहे धूल, कहीं आधे से ज्यादा खराब, कहीं चलते-चलते हो रहे बंद

India Covid Latest Updates : 24 घंटों में कोरोना के कारण 3,874 मौत, 2,76 नए केस आए सामने,घर पर कोविड टेस्ट करने की मिली मंजूरी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर