नई दिल्ली. कोरोना वायरस की तीसरी लहर से जुड़ी आशंकाओं के बीच एक राहत देने वाला बयान सामने आया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी संसदीय दल की बैठक में कहा है कि अगले महीने बच्चों की वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी।

बीजेपी संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री मोदी भी मौजूद थे और सूत्रों के अनुसार पीएम मोदी के सामने ही स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि बच्चों को कोरोना से बचाने के लिए अगले महीने  से देश में बच्चों की वैक्सीन का टीकाकरण भी शुरू हो जाएगा। 

एम्स प्रमुख डॉ. रणदीप गुलेरिया ने पिछले हफ्ते कहा था कि सितंबर तक बच्चों के लिए कोविड 19 वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी दी जा सकती है। देश में जाइडस कैडिला की बच्चों के लिए वैक्सीन के ट्रायल अंतिम चरण में है।

वहीं भारत बायोटेक भी बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन तैयार करने में जुटी है। वो भी तीसरे चरण के परीक्षण करने में जुटी है। अगर ट्रायल के नतीजे सफल रहे हैं तो बच्चों की कोरोना वैक्सीन को जल्द मंजूरी मिलने की बाद उन्होंने कही थी। बच्चों के लिए कोविड-19 की वैक्सीन के ट्रायल पटना और दिल्ली एम्स में भी हुए हैं। भारत बायोटेक की स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन पहले ही देश भर में आपातकालीन मंजूरी के तहत वयस्कों को दी जा रही है। सीरम इंस्टीट्यूट भी बच्चों के लिए अपनी वैक्सीन कोवावैक्स के परीक्षण की तैयारियों में जुटा है।

गौरतलब है कि देश में अभी 18 साल से अधिक उम्र वाले लोगों को ही टीका लगाया जा रहा है। कोरोना की दूसरी लहर में बड़ी संख्या में बच्चों पर भी असर हुआ है, तीसरी लहर में ये संख्या बढ़ सकती है। ऐसे में उससे पहले ही बच्चों की वैक्सीन का इंतज़ार किया जा रहा था।

Facebook Religion: लोगों से ही नहीं, अब आपको भगवान से भी जोड़ने की तैयारी कर रहा है फेसबुक, ला रहा है ये फीचर

JEE Advanced 2021: IIT में दाखिले के लिए 3 अक्टूबर को होगी प्रवेश परीक्षा, शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दी जानकारी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर