नई दिल्ली. भारत में गुरुवार को अबतक सबसे अधिक कोरोना के केस सामने आए हैं. पिछले 24 घंटों में 1,31,968 कोविड -19 मामलों सामने आए हैं जबकि 780 लोगों की मौत हुई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश के कोरान के कुल मामले 9,79,608  हैं और 1,19,13,292 लोग अबतक ठीक हुए हैं जबकि 1,67,642 मौत हुई हैं.

केंद्र सरकार ने गुरुवार को कहा था कि दस राज्यों – महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात, केरल और पंजाब ने दैनिक कोविड -19 मामलों में तेजी दिखाई है.

इन सबके बीच, महाराष्ट्र लगातार सबसे ज्यादा केस मिल रहे हैं. राज्य में गुरुवार को 59,907 नए केस मिले हैं. इसके बाद छत्तीसगढ़ में 10,310 जबकि कर्नाटक में 6,976 नए मामले सामने आए.

अब तक किए गए टेस्ट

कई राज्यों ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए नाइट कर्फ्यू  या सप्ताहांत कर्फ्यू लगा दिया है.

महाराष्ट्र सरकार ने रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक 30 अप्रैल तक के लिए कर्फ्यू लगा दिया है. पूरे महीने के दौरान एक सप्ताहांत लॉकडाउन भी रहेगा.

दिल्ली में, प्रशासन ने 10 अप्रैल से सुबह 5 बजे से 30 अप्रैल तक सात घंटे की नाइट कर्फ्यू लगा दिया है.

भारत में टीकाकरण

गुरुवार को टीकाकरण का आंकड़ा नौ करोड़ के पार पहुंच गया.

इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राज्यों से कहा कि वे 11 से 14 अप्रैल के बीच ‘वैक्सीन फेस्टिवल’ का अवलोकन करें.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICCM) के अनुसार, भारत ने अब तक कोविड-19 के लिए 25,40,41,584 नमूनों का परीक्षण किया है. इनमें से गुरुवार को 13,64,205 नमूनों का परीक्षण लिया गया है.

गुरुवार को कहा कि संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए फिर से युद्ध स्तर पर काम करना आवश्यक है. उन्होंने राज्यों से निषिद्ध क्षेत्रों पर अधिक ध्यान केंद्रित करने और जांच में तेजी लाने को कहा. मुख्यमंत्रियों के साथ देश में कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति की समीक्षा करने के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने पिछले साल बगैर टीके के कोविड-19 से लड़ाई जीती थी, इसलिए आज भयभीत होने की जरूरत नहीं है.

कई राज्यों ने टीकों की कमी के बारे में मुद्दे उठाए हैं.

पुणे के पिंपरी-चिंचवड़ नगर निगम (पीसीएमसी) ने कोविड -19 वैक्सीन की खुराक की अनुपलब्धता के कारण शुक्रवार के लिए अस्थायी रूप से अपने टीकाकरण अभियान को रोक दिया है.

ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नबा किशोर दास ने भी गुरुवार को कहा कि राज्य में अगले दो दिनों के लिए कोविड -19 वैक्सीन बचे हुए  हैं.

“अभी हमारे पास 5.34 लाख खुराकें हैं. हम रोज़ाना 2.5 लाख टीके लगाते हैं. इसलिए, हमारा स्टॉक 2 दिन और चलेगा. हमने केंद्र को 10 दिनों के लिए न्यूनतम 25 लाख टीके भेजने के लिए लिखा है, ताकि हम ठीक से टीकाकरण. ”

Aadhaar Card Update: आधार कार्ड पर लगी फोटो पसंद नहीं तो घर बैठे ऐसे करें चेंज

UP Panchayat Election 2021: रेप मामले में सजा काट रहे पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर की पत्नी को भाजपा ने दिया टिकट

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर