Sunday, September 25, 2022

एनसीआर में फिर लौटा पाबंदियों का दौर, जानें नियम

नई दिल्ली, कोरोना नियमों से राहत के महज 18 दिन बाद ही एनसीआर के कई जिलों में फिर से प्रतिबंधों की वापसी हो गई है. केंद्र सरकार ने आपदा प्रबंधन एक्ट को हटाते हुए 31 मार्च से पाबंदियों में छूट दी थी लेकिन कोरोना के एक बार फिर बढ़ते मामलों को देखते हुए एनसीआर में आने वाले उत्तर प्रदेश और हरियाणा के जिलों में फिर से प्रतिबंधों की वापसी हो गई है, और यहाँ मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है.

इन जिलों में मास्क अनिवार्य

कोरोना के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे हैं. ऐसे में, गाजियाबाद, नोएडा, गुड़गांव और फरीदाबाद में अब लोगों के लिए सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है. हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने चार जिलों के लिए नियमों का ऐलान करते हुए कहा है कि सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क घूमने वालों का चालान किया जाएगा. इसमें गुड़गांव और फरीदाबाद के अलावा झज्जर और सोनीपत जैसे जिले भी शामिल हैं.

वहीं, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए गाजियाबाद प्रशासन की तरफ से आदेश दिए गए हैं कि अगर कोई मास्क नहीं लगाता है तो उसका 500 रुपये तक का चालान किया जाएगा. उत्तर प्रदेश में लखनऊ समेत सात शहरों में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाने का आदेश भी जारी कर दिया गया है. इसी कड़ी में, राजधानी दिल्ली कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, ऐसे में, सरकार ने मास्क को अनिवार्य तो नहीं किया लेकिनसरकार ने जनता से मास्क लगाकर बाहर निकलने की अपील की है.

सख्ती के साथ नोएडा में खुलेंगे स्कूल

बता दे, बीते दिनों दिल्ली से सटे नोएडा में स्कूली छात्रों में सबसे तेज़ी से संक्रमण दर दर्ज़ किया गया. जहां कोरोना से प्रभावित बच्चों को देखते हुए कुछ समय के लिए स्कूलों को बंद कर दिया गया था. लेकिन अब सोमवार को सख्त प्रोटोकॉल के साथ फिरसे स्कूल खुलने जा रहे हैं. जहां जिलाधिकारी के निर्देश के बाद स्कूलों और कॉलेजों में हेल्थ कैंप लगाया जाएगा. जिसमें कोरोना संबंधित जांच की जाएगी. गौरतलब है कि भारी संख्या में स्कूली छात्रों के कोरोना संक्रमित होने के बाद भी किसी बच्चे को अस्पताल में दाखिल करने की नौबत नहीं आयी है.

 

जहांगीरपुरी हिंसा: आरोपी सोनू ने कबूला जुर्म, कहा- मैंने की थी फायरिंग, 72 घंटे बाद ये है हालात

Latest news