नई दिल्ली. भारत में कोरोना की दूसरी लहर जारी है. हर दिन 50 हजार ज्यादा केस मिल रहे हैं. इसी को देखते हुए कई राज्यों ने कोरोना से लड़ने के लिए नई- नई गाइडलाइन बनाई है. इसी कड़ी में उत्तराखंड सरकार ने मंगलवार को दूसरे राज्यों से उत्तराखंड आने वाले लोगों के लिए कोरोना की नेगेटिव रिर्पोट को साथ लाना अनिवार्य कर दिया है जोकि 72 घंटे से अधिक पुरानी न हो.

एडवाइजरी जारी करते हुए मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने कहा कि 1 अप्रैल से महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और राजस्थान से सड़क, हवाई और रेलगाड़ियों से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध लागू होगा.

इन राज्यों से आने वाले लोग, जिनमें उत्तराखंड के निवासी भी शामिल हैं, गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालयों और राज्य सरकार के दिशानिर्देशों के अनुसार सुरक्षा और सामाजिक दूरियों के मानदंडों का कड़ाई से पालन करेंगे. आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005, महामारी अधिनियम, 1897 और भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत उल्लंघन दंडनीय होगा.

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में 15 अप्रैल तक कोविड -19 प्रतिबंधों बढ़ाया

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में 15 अप्रैल तक कोविड -19 प्रतिबंधों को कड़ा कर दिया है. सार्वजनिक स्थान जैसे समुद्र तट और उद्यान 27 मार्च की आधी रात से रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक बंद रहेंगे. इसका उल्लंघन करने पर प्रति व्यक्ति पर 1000 का जुर्माना लगेगा. एक आधिकारिक अधिसूचना में सरकार ने उसी की घोषणा की. इसमें कहा गया है कि राज्य में सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक और धार्मिक समारोहों के आयोजन पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया जा रहा है.

ऑडिटोरियम या ड्रामा थिएटर को इस तरह के आयोजनों के लिए अपनी संपत्ति का इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं देनी चाहिए. राज्य भर में 30 अप्रैल तक सभी प्रकार के सामाजिक समारोहों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. मुंबई में रात का कर्फ्यू 28 मार्च को रात 10 बजे या रात 11 बजे से शुरू हो सकता है. रात के कर्फ्यू के दौरान होटल और पब बंद रहेंगे. केवल आवश्यक सेवाओं की अनुमति होगी. BMC आवासीय सोसाइटियों को पांच या अधिक मामलों के साथ सील कर देगा. हम देख रहे हैं. 

पंजाब में 10 अप्रैल तक बढ़ा प्रतिबंध

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि 31 मार्च तक लागू सभी प्रतिबंध अब 10 अप्रैल तक लागू रहेंगे, जिसके बाद उनकी फिर से समीक्षा की जाएगी. मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग को टीकाकरण स्थलों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए. अब स्कूल एवं कॉलेज अगले दस दिनों तक और बंद रहेंगे. पहले जो पाबंदियां 31 मार्च तक थीं अब वे 10 अप्रैल तक रहेंगी. शॉपिंग मॉल्स में एक वक्त में 100 से अधिक व्यक्तियों को इजाजत नहीं होनी चाहिए और सिनेमाघरों को आधी सीटें खाली रखने को कहा गया है.

दिल्ली में बढ़ी कंटेनमेंट जोन की संख्या

दिल्ली में भी लगातार कोरोना के केस में बढोंतरी को देखते हुए कोविड मरीजों के लिए आरक्षित सामान्य और आईसीयू बेडों की संख्या कुछ अस्पतालों में बढ़ाई जा रही है. बता दें कि दिल्ली में महज के 6 दिन में ही कंटेनमेंट जोन्‍स की संख्‍या 800 से ज्यादा बढ़ गई है. शादियों और अन्‍य फंक्शन में मेहमानों की अधिकतम संख्‍या घटा दी गई है.

नेगेटिव रिर्पोट के साथ ही होगी गुजारत में एंट्री

गुजरात सरकार ने शनिवार को घोषणा की कि अन्य राज्यों से आने वालों के लोगों को  कोरोना की नेगेटिव रिर्पोट लाना अनिवार्य होगा. गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिनभाई पटेल ने कहा, “1 अप्रैल से, दूसरे राज्यों से गुजरात में प्रवेश करने वाले लोगों को अनिवार्य रूप से आरटी-पीसीआर रिपोर्ट (72 घंटे से अधिक पुरानी) नहीं दिखाना होगा.” पिछले कुछ दिनों में, गुजरात अहमदाबाद और सूरत के साथ कोरोनो वायरस के मामलों में सबसे अधिक प्रभावित हुआ है.

बिहार के लाल डॉक्टर अवनीश कुमार को मिला प्रतिष्ठित न्यूटन फ़ेलोशिप

Last date to link PAN card with Aadhaar: पैन कार्ड को आधार से अभी तक नहीं किया लिंक तो कर लें अभी नहीं तो भरना पड़ेगा हजारों का जुर्माना

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर