नई दिल्ली. दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए अब केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ((सीपीसीबी) ने सोमवार को एक बड़ा निर्देश दिया है, शहर में बढ़ते प्रदूषण की वजह से अब दिल्ली-एनसीआर में 26 दिसंबर तक कंस्ट्रकशन बंद रहेगा.  दिल्ली में अब प्रदूषण पिछली दिवाली से भी अधिक है जो कि अब इसकी एयर क्वॉलिटी इंडेक्स की बात करें तो वह 450 से भी उपर है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के निर्देशों के अनुसार फरीदाबाद, गुरुग्राम, गाजियाबाद और नोएडा में कंस्ट्रकशन का काम 26 दिसंबर तक बंद रहेगा.

सीपीसीबी ने बुधवार तक वजीरपुर, मुंडका, नरेला, बवाना, साहिबाबाद और फरीदाबाद के औद्योगिक क्षेत्रों में कंस्ट्रक्शन को बंद कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) से सिफारिश की है. वहीं ईपीसीए के अधिकारियों ने लोगों को बाहरी गतिविधियों को कम करने और निजी वाहनों के उपयोग से बचने के लिए सलाह दी है क्योंकि इस समय शहर में दिवाली के बाद का सबसे खराब प्रदूषण स्तर है.

सीपीसीबी की अगुवाई वाली टास्क फोर्स ने कहा, इस मामले में पुलिस विभाग भारी वाहनों को पूर्वी और पश्चिमी एक्सप्रेसवे के माध्यम से शहर में अंदर आने से रोक रहा है और अवैध कंट्रक्शन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रहा है. NCR में नोएडा ने 464 एयर क्वालिटी इंडेक्स के साथ सबसे खराब हवा की गुणवत्ता दर्ज की है और फरीदाबाद और गाजियाबाद में भी हवा की बेहद खराब है. सीपीसीबी के अनुसार सोमवार को राजधानी दिल्ली के 32 क्षेत्रों में वायु की गुणवत्ता गंभीर दर्ज की गई, जबकि पांच क्षेत्रों में वायु की बेहद खराब गुणवत्ता दर्ज की गई है.

Delhi Parking Charge 2019: नए साल में दिल्ली वालों की जेब होगी ढीली, अरविंद केजरीवाल सरकार ने 18 गुना बढ़ाया पार्किंग चार्ज

T-18 Train Delhi to Varanasi: दिल्ली से वाराणसी के बीच चलेगी पहली T-18 ट्रेन, 29 दिसंबर को पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App