लंदन. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बैंकों का पैसा लेकर देश से भागने वाले शराब कारोबारी विजय माल्या को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है. बीते शनिवार लंदन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए राहुल ने दावा किया कि विजय माल्या ने देश छोड़ने से पहले कई बीजेपी नेताओं से मुलाकात की थी. हालांकि राहुल गांधी ने उन नेताओं का नाम का खुलासा नहीं किया. राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार विजय माल्या जैसे बड़े उद्योगपतियों के प्रति नरम रुख अपनाती है. बता दें कि बैंक घोटाले के आरोपी विजय माल्या भारत में वाटेंड है.

मिली जानकारी के अनुसार, पत्रकारों से बातचीत करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि विजय माल्या ने देश छोड़ने से पहले भाजपा के नेताओं से मुलाकात की थी. इसके दस्तावेज भी हैं. लेकिन मैं उनके नाम नहीं बताऊंगा. वहीं दूसरी ओर भाजपा की ओर से अभी तक इस मामले में कोई जवाब नहीं आया है. बता दें कि राहुल गांधी लंदन दौरे पर हैं जहां साल 2016 से विजय माल्या रह रहा है. शराब कारोबारी विजय माल्या पर भारतीय बैंकों के करीब 9 हजार करोड़ रुपए लेकर फरार होने का आरोप लगा है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार भारतीय बैंकों को धोका देने वाले विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी जैसे कारोबारियों के लिए उदार है. इसके साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि मेहुल चोकसी और प्रधानमंत्री के बीच संबंध है. इसलिए उनपर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है. वहीं राहुल गांधी ने कहा कि जहां तक माल्या का संबंध है, भारतीय जेलें बहुत अच्छी हैं. राहुल ने आगे कहा कि भारत में रहने वाले सभी लोगों को एक समान न्याय मिलना चाहिए. बता दें कि राहुल गांधी युरोप दौरे पर गए हुए हैं, जहां से वे देश की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साध रहे हैं. वहीं भाजपा भी राहुल गांधी के आरोपों का जवाब दे रही है.

लंदन में बोले राहुल गांधी- NRI ने की थी कांग्रेस की शुरुआत, NRI थे नेहरू, गांधी और पटेल

राफेल डील पर कांग्रेस के 50 नेता एक महीने तक 100 शहरों में करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस, पी चिदंबरम ने कोलकाता से की शुरूआत