नई दिल्ली: कांग्रेस के उदयपुर में आयोजित होने वाले ‘नव संकल्प शिविर’ की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं. इससे पहले सोमवार को पार्टी के गठित पैनल ने हाईकमान के सामने…कांग्रेस पार्टी के अंदर चल रहे कलह और हार के सिलसिले एंव बुरे दौर से निकलने के लिए हाईकमान सोनिया गांधी को सुझाव बताए है, जो कुछ इस तरह है..

CWC की हुई बैठक में कांग्रेस पार्टी के एक पैनल ने सुझाव दिया है कि पार्टी को एक समयबद्ध संविधान कमेटी का गठन करना चाहिए। इसके अलावा ‘एक परिवार, एक पॉलिसी’ लागू करने की बात कही है यानी कांग्रेस में एक व्यक्ति के पास एक ही जिम्मेदारी होनी चाहिए।

कांग्रेस के उदयपुर में आयोजित होने वाले ‘नव संकल्प शिविर’ की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं. इससे पहले सोमवार को पार्टी के गठित पैनल ने हाईकमान के सामने महत्वपूर्ण सुझाव रखे है. इनमें पहला वन फैमिली, वन टिकट’ पॉलिसी लागू करने का सुझाव दिया गया है। दूसरा सुझाव पार्टी में एससी, एसटी, अल्पसंख्यक, ओबीसी और महिलाओं को 50 प्रतिशत प्रतिनित्व देने का भी सुझाव दिया गया है । कहा जा रहा है कि कमेटी ने पार्टी नेतृत्व को कई अन्य सुझाव भी दिए गए है, इनमें AICC समेत विभिन्न स्तरों पर पदधिकारियों का कार्यकाल तय करने पर जोर दिया गया है. माना जा रहा है कि चिंतन शिविर में इन सुझाव को रखा जा सकता है।

पार्टी के आलाकमान को दिए गए सुझाव….

समयबद्ध कार्य समिति के अनुमोदन से प्रदेश कांग्रेस कमेटियों का अपना अलग संविधान हो सकता है।
राजनीतिक मामलों की कमेटी के एक पब्लिक इनसाइट कमेटी और सार्वजनिक नीति पर तत्काल कमेटी के गठन की जरूरत है।
विभिन्न नागरिक समूहों सिविल सोसायटी और कर्मचारियों साथ कोऑर्डिनेट करने के लिए एक कमेटी भी होना चाहिए।
ट्रांसपेरेंसी लाने लिए फ्रंटल ऑर्गेनाइजेशन और CWC में आंतरिक पार्टी चुनावों की निगरानी स्टेक होल्डर्स के साथ की जानी चाहिए।
जवाबदेही के लिए एक तंत्र विकसित किया जा सकता है. पैनल ने ब्लॉक और बूथ के बीच और जिला और राज्य के बीच इंटरमीडिएट कमेटियों के गठन का सुझाव दिया गया है।
ब्लॉक से लेकर पीसीसी स्तर तक कमेटियों को तर्कसंगत बनाने की सिफारिश की गई है ।
बता दें कि उदयपुर में कांग्रेस का 13 से 15 मई तक 2 दिवसीय चिंतन शिविर आयोजित किया जा रहा है. इसमें कांग्रेस वर्किंग कमेटी के ससदस्यों का गठन किया है जो विभिन्न मसलों पर सुझाव तैयार कर रही है

य़ह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर