नई दिल्ली: आगामी लोकसभा चुनावों को लेकर दिल्ली में आप और कांग्रेस के बीच गठबंधन की संभावनाओं को लेकर लगातार कयास लगाए जा रहे हैं. इस बीच खबर है कि कांग्रेस के अंदरुनी सर्वे में ये बात निकलकर आई है कि दिल्ली में बीजेपी आप और कांग्रेस दोनों से आगे रहेगी और उसका वोट प्रतिशत करीब 35 फीसदी होगा. जानकारी के मुताबिक इस इंटरनल सर्वे की रिपोर्ट कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और शीला दीक्षित के साथ साझा कर दी गई है जिसके बाद कांग्रेस दिल्ली की चुनावी रणनीति पर फिर से विचार करने को मजबूर हो गई है.

पिछले दिनों दिल्ली कांग्रेस के नेताओं से बात करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आम आदमी पार्टी के साथ कोई गठबंधन ना करने का फैसला किया था लेकिन खबर है कि इस सर्वे के बाद वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं ने राहुल गांधी से मुलाकात कर उन्हें अपने फैसले पर फिर से विचार करने का अनुरोध किया है.

कांग्रेस पार्टी के सूत्रों के मुताबिक दिल्ली में आप का वोट बैंक 28 फीसदी है जबकि कांग्रेस का 22 फीसदी है वहीं बीजेपी का वोट बैंक 35 फीसदी के करीब है. कांग्रेस पार्टी के सूत्रों के मुताबिक अगर दिल्ली में आप और कांग्रेस का गठबंधन हो जाता है तो सातों की सात सीटें गठबंधन के पास चली जाएगी.

सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी ने दिल्ली कांग्रेस कार्यकर्ताओं से शक्ति एप के जरिए उनका गठबंधन को लेकर फीडबैक मांगा है. खबर है कि फीडबैक की रिपोर्ट बनाकर राहुल गांधी को सौंप दी गई है.

इस बीच खबर है कि दिल्ली में कांग्रेस पार्टी के इंचार्ज पीसी चाको इस रिपोर्ट के साथ दिल्ली कांग्रेस प्रमुख शीला दीक्षित से मिले हैं और उन्हें वोटबैंक सर्वे की रिपोर्ट सौंपी है. शीला दीक्षित का कहना है कि वो पार्टी हाईकमान के फैसले के साथ खड़ी हैं, जो भी फैसला पार्टी हाई कमान करती है वो उसमें साथ रहेंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App