कर्नाटक. प्रदेश के कुमारेश्वर नगर धारवाड़ में एक निर्माणाधीन इमारत के ढहने से दो लोगों की मौत हो गई है. अब तक इस इमारत के नीचे से 35 लोगों को बचाव अभियान के तहत बचाया गया है. वहीं 80 लोगों की और इसके नीचे दबे जाने की आशंका बताई गई है. यह घटना बेंगलुरू से लगभग 400 किलोमीटर दूर धारवाड़ की है और मौके पर राहत कार्य बचाव टीम और पुलिस मौके पर पहुंच गई है. वहीं इस संबंध में पुलिस निरीक्षक एल.के. तलवार ने बताया कि इस हादसे में दो लोगों की जान जा चुकी है और मलबे के नीचे दबे हुए लोगों को निकाला जा रहा है.

इमारते ढहने वाले स्थान पर एनडीआरएफ और एसडीआरएफ टीम भी पहुंच गई हैं और टीमें दबे हुए लोगों को निकालने के लिए रात तक रेस्क्यू ऑपरेशन चलाएंगी. वहीं मलबे के अंदर दबे लोगो को ऑक्सीजन और पानी दिया जा रहा है.

वहीं इस खबर से पूरे प्रदेश में हाहाकार मच गई है और कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने इस हादसे पर शोक जताया है. मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर लिखा, धारवाड़ में एक निर्माणाधीन इमारत के ढहने के बारे में जानकर स्तब्ध हूं. मैंने मुख्य सचिव को बचाव कार्यों की निगरानी करने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही सीएस को एक विशेष उड़ान द्वारा अतिरिक्त संसाधन और विशेषज्ञ बचाव दल को भेजने का भी निर्देश दिया है.

इस हादसे के बाद 15 मजदूरों को बिल्कुल सुरक्षित निकाला गया है और बचाव कार्य अभी भी जारी है बताया जा रहा है. लोकल मीडिया की मानें तो इमारत ढही तो 150 लोग वहां मौजूद थे जो कि यहां पर टाइलस लगाने का काम करते थे.

घटना स्थल के पास खड़ी गाड़ियां भी मलबे में दब गई हैं. वहीं इस इमारत के पास खड़ी गाड़ियां भी मलबे में दब गई हैं और इस इमारत में एक कॉम्पलेक्स को बनाने का कार्य चल रहा था जिसमें 7 से 8 लोगों की साझेदरी बताई जा रही है.

Mumbai Foot Overbridge Collapse: रेड लाइट ने दिया सैंकड़ो लोगों को जीवनदान, सिर्फ दस सैकेंड के अंदर से मौत का आंकड़ा हो सकता था 50 के पार

Nepal Tourism Minister Dead in Helicopter crashes: हेलिकॉप्टर हादसे में नेपाल के पर्यटन मंत्री समेत 6 लोगों की मौत