नई दिल्ली : New Delhi

इस साल नए साल के मौके पर जश्न के बजाए कोरोना, ओमिक्रॉन, भारी बारिश, बर्फबारी और ओलों (cold Wave) की मार झेलनी पड़ सकती है. मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है, कि उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में कड़ाके की ठंड के साथ नए साल की अगवानी करनी पड़ सकती है. मौसम विभाग की मानें तो उत्तर भारत में अगले 3 से 4 दिनों के भीतर तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है. साथ ही मध्यभारत का भी तापमान गिर सकता है. जिसका असर उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में घने कोहरे के रूप में दिखाई पड़ेगा. फिलहाल नए साल के शुरूआती तीन दिनों तक दिल्ली हरियाणा और पंजाब को सावधान किया गया है.

दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, और राजस्थान के कुछ हिस्सों में शीतलहर पड़ने की संभावना है. मौसम विभाग के अनुसार देश के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के साथ ओले पड़ने की भी संभावना है. थर्ड वेब के साथ (Cold Wave) के कहर को देखते हुए उत्तर और मध्य भारत के लिये भी चेतावनी जारी की गई है.

दक्षिण भारत में बारिश पड़ने की सम्भावना

दक्षिण भारत की बात करें तो वहां भी भारी बारिश को लेकर रैन अलर्ट जारी किया गया है. आगामी तीन दिनों में आंध्रा और तमिलनाडु समेत अन्य तटीय इलाकों में भारी बारिश होने के आसार हैं.

दिल्ली में शीतलहर

राजधानी दिल्ली में बीते गुरूवार से ही शीतलहर का प्रभाव बढ़ गया है. नतीजन सफदरजंग वेधशाला में सामान्य से चार डिग्री कम 3.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया है.

एमपी में अलर्ट

एमपी में कड़ाके की ठंड होने का अनुमान है. मौसम विभाग ने राज्य में शीतलहर के मानकों पर विचार करते हुए यलो अलर्ट जारी किया है. मध्य प्रदेश में घना कोहरा और भारी ओस पड़ने की संभावना बताई गई है. मध्यप्रदेश के ग्वालियर, रायसेन, सिवनी और सागर समेत आठ जिलों में नए साल पर शीतलहर पड़ने की संभावना है. वहीं इसके अलावा 23 जिलों के विभिन्न स्थानों में कड़के की ठंड से निपटने के लिये सावधान किया गया है

यह भी पढ़ें 

PM Modi meets former PM Deve Gowda: प्रधानमंत्री मोदी ने की पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा से ख़ास मुलाक़ात

Corona Omicron Overall India Update दिल्ली में सात माह बाद कोरोना के सबसे ज्यादा केस

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर