पटनाः बिहार के मुजफ्फरपुर में बालिका गृह दुष्कर्म कांड सामने आए अभी कुछ दिन भी नहीं गुजरे हैं कि एक दरिंदगी का मामला सामने आया है जहां मधेपुरा जिले के एक प्राइवेट कोचिंग संस्थान के संचालक द्वारा अपने यहां पढ़ने वाली सातवीं कक्षा की नाबालिग छात्रा के साथ 11 महीनों तक बलात्कार किया गया है. छात्रा के गर्भवती होने के बाद ये मामला सामने आया जिसके बाद पीड़िता के माता-पिता ने शिक्षक के खिलाफ थाने में रेप का मामला दर्ज कराया है.

मिली जानकारी के मुताबिक, सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली 13 वर्षीय छात्रा मधेपुरा के इन्फोटेक कोचिंग इंस्टिट्यूट में मार्च 2018 से इंग्लिश स्पीकिंग की क्लास लेने जा रही थी लेकिन अचान दो महीने बाद छात्रा ने कोचिंग जाना बंद कर दिया. पीड़िता के पिता ने पुलिस में अपनी शिकायत में बताया कि उनकी बेटी का मासिक धर्म आना बंद हो जाने पर उसने अपनी मां को बताया और वो उसके लेकर शहर में एक महिला चिकित्सक के पास जांच कराने के लिए गई.

लेकिन जब 28 जुलाई को लड़की की मेडिकल रिपोर्ट आई तो उसे देखकर मां के पैरों तले जमीन खिसक चुकी थी. क्योंकि मेडिकल रिपोर्ट में नाबालिग लड़की के गर्भवती होने की पुष्टि की गई थी. जिसके बाद छात्रा ने काफी पूछताछ के बाद बताया कि उसके कोचिंग सेंटर के संचालक सुनील दास ने उसके साथ दो महीने तक दुष्कर्म किया जिसकी वीडियो उसने बना ली थी. जिसके बल पर उसने ये बात कहीं भी न बताने की धमकी लड़की को दी थी. जिसके बाद वह दो महीने तक नाबालिग के साथ दुष्कर्म करता रहा.

छात्रा ने अपने बयान में बताया कि कोचिंग सेंटर का संचालक उसको वीडियो दिखाकर लगातार धमकी देता रहा और उसका बलात्कार करता रहा. सुनील कुमार लगातार लड़की को डराकर रखता और उससे कहता कि अगर मेरी बात नहीं मानी तो ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दूंगा

पुलिस ने पिता की शिकायत के आधार पर कोचिंग सेंटर के संचालक को के सहयोगी को हिरासत में लेकर पूछताछ जांच शुरु कर दी है. कोचिंग सेंटर की जांच करने पर वहां से एक कंप्यूटर बरामद हुआ है. संचालक सेंटर के पीछे बने मकान में ही परिवार के साथ रहता है. फिलहाल कोचिंग सेंटर का संचालक फरार है जिसकी तलाश के लिए पुलिस ने जगह-जगह छापेमारी शुरु कर दी है.

मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप केस के मास्टरमाइंड ब्रजेश ठाकुर पर पुलिस जांच में इंटरनैशनल सेक्स रैकेट चलाने का आरोप

बालिका गृह कांडः मुजफ्फरपुर ही नहीं, बिहार की इन 15 संस्थाओं में भी बच्चों से हो रही दरिंदगी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App