नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर में लगातार भारी ने परेशानी पैदा कर दी है। किश्तवाड़ जिले में बुधवार तड़के बादल फटने से 40 से अधिक लोग लापता हो गए हैं। जिसके बाद बचाव अभियान शुरू कर दिया गया है। अभी तक कई लोगों के शव मिल चुके हैं। 

जिले के सुदूर गांव में बुधवार तड़के बादल फटने की घटना में 30 से अधिक लोग लापता हो गए। 8-9 घर क्षतिग्रस्त हुए हैं। घटना में अब तक 4 लोगों के शव बरामद किए गए हैं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। एसडीआरएफ और सेना की मदद से बचाव कार्य जारी है। भारी बारिश की वजह से नेटवर्क ठप हो गया है।

मालूम हो कि जम्मू क्षेत्र के अधिकांश हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है। जम्मू में जुलाई माह के अंत तक और अधिक बारिश होने का अनुमान है जिसके चलते किश्तवार के अधिकारियों ने जलाशयों के निकट रहने वाले और फिसलन वाले क्षेत्रों के लोगों से सतर्क रहने को कहा है।

मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की है, नदियों और नालों में जल स्तर बढ़ने की उम्मीद है, जो नदियों, नालों, जल निकायों और स्लाइड-प्रवण क्षेत्रों के पास रहने वाले निवासियों के लिए खतरा पैदा कर सकता है।

Karnataka New CM: येदयुरप्पा के करीबी बसवराज बोम्मई ने ली कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ, जानें कौन हैं बोम्मई जिन्हें सीएम बनाकर बीजेपी ने कई समीकरण साधे हैं

Barabanki Bus Accident: यूपी के बाराबंकी में भीषण सड़क हादसे में 19 लोगों की मौत, खड़ी बस में ट्रक ने मारी टक्कर, मरने वाले सभी मजदूर