शाहजहांपुर. एक स्थानीय अदालत के पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली कानून की छात्रा की जमानत याचिका खारिज करने के बाद उसके पिता ने कहा कि वे आदेश के खिलाफ उच्च न्यायालय का रुख करेंगे. उसके पिता ने मध्यस्थों को बताया कि जिला जज ने मेरी बेटी की जमानत को खारिज कर दिया है और अब हम उच्च न्यायालय में जमानत अर्जी स्थानांतरित करेंगे. यह कहते हुए कि उनके प्रतिद्वंद्वी उन्हें लड़ाई से हटाने के लिए एक साजिश रच सकते हैं, उन्होंने कहा कि उन्होंने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को मदद के लिए लिखा था. उन्होंने सत्तारूढ़ पार्टी बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने तीन दिन पहले कांग्रेस नेता को मदद के लिए लिखा था.

उन्होंने कहा, मेरी बेटी एक पीड़ित है. उसके साथ अन्याय किया गया है और उसे जेल में डाल दिया गया है. अब मुझे अपने स्रोतों के माध्यम से जानकारी मिली है कि हमारे विरोधी हमें फर्जी मामलों में फंसाने की कोशिश कर सकते हैं ताकि हम न्याय के लिए इस लड़ाई से पीछे हटें. लड़की के पिता ने कहा कि हालांकि वह किसी भी तरह की राजनीति में शामिल नहीं होना चाहते थे, उन्हें गांधी परिवार से मदद लेने के लिए मजबूर होना पड़ा. जिला न्यायाधीश रामबाबू शर्मा ने सोमवार को चिन्मयानंद और लड़की की जमानत याचिका खारिज कर दी थी.

वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद सहित कम से कम 80 कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सोमवार को शाहजहांपुर में गिरफ्तार किया गया था, जब वे ‘न्याय यात्रा’ से पहले एक सार्वजनिक बैठक कर रहे थे. वो एक विरोध मार्च निकालने वाले थे. इसके जरिए वो भाजपा के पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर बलात्कार आरोप लगाने वाली महीला के साथ खड़े होता. कांग्रेस द्वारा ‘न्याय यात्रा’, कथित तौर पर शाहजहांपुर से लखनऊ तक 180 किलोमीटर की पैदल यात्रा की योजना थी, जिसका उद्देश्य भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ बलात्कार के आरोप लगाने वाली छात्रा के साथ एकजुटता रखना था.

पुलिस अधीक्षक (शहर) दिनेश त्रिपाठी के अनुसार, कांग्रेस कार्यकर्ता उस समय पार्टी कार्यालय के सामने बैठक कर रहे थे, जब शहर में निषेधात्मक आदेशों को लागू किया गया था. इस कारण उनमें से 80 को गिरफ्तार किया गया है. त्रिपाठी ने कहा, उन्होंने प्रशासन से कोई अनुमति नहीं ली थी. गिरफ्तारी के बाद उन्हें पुलिस लाइंस ले जाया गया.

BJP Swamy: अपने ही ‘स्वामी लोग’ बिगाड़ रहे हैं भाजपा की सेहत

Swami Chinmayanand Case: एसआईटी ने कहा- स्वामी चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली लॉ छात्रा ने कबूली 5 करोड़ की रंगदारी की मांग करने की बात

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App