शाहजहांपुर: बीजेपी सरकार में पूर्व केंद्रीय रह चुके रेप के आरोपी स्वामी चिन्मयानंद को पुलिस ने गिरफ्तार तो किया लेकिन उनपर रेप की धाराओं के तहत मुकद्दमा दर्ज नहीं किया गया है बल्कि स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ रेप का आरोप लगाने वाली पीड़ित युवती के खिलाफ फिरौती मांगने की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. 72 साल के स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ पुलिस ने पीड़िता के बयान के बावजूद आईपीसी की धारा 376 के तहत मामला दर्ज ना करते हुए 376(C) के तहत केस दर्ज किया है जिसमें शारीरिक संबंध बनाने के लिए पद का दुरुपयोग करना या शारीरिक संबंध बनाना जिसे रेप नहीं कहा जा सकता आता है. इस अपराध में दोषी को 5 से 10 साल तक जेल और जुर्माने का प्रावधान है जबकि रेप में 7 साल जेल से लेकर उम्रकैद तक का प्रावधान है.

पुलिस ने युवती के तीन दोस्तों को भी फिरौती मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया है. पुलिस का कहना है कि पीड़ित युवती भी इस साजिश में शामिल थी. पुलिस का कहना है कि वो युवती के खिलाफ सबूत खोज रहे हैं. युवती का कहना है कि वो मामले की जांच कर रही एसआईटी को पहले ही चिन्मयानंद की वीडियो दे चुकी है जो उसने अपने चश्में में छिपाकर बनाई थी. युवती का कहना है कि जो उसने सोचा था वही हो रहा है. उसने कहा कि फिरौती के किसी मामले से उसका कोई लेना देना नहीं है. उसने कहा कि चिन्मयानंद के खिलाफ सारे सबूत होने के बावजूद पुलिस ने उसे गिरफ्तार करने में देरी बरती जिससे पता चलता है कि वो कितना रसूखदार है.

एसआईटी चीफ नवीन अरोड़ा ने इस मामले में कहा कि चिन्मयानंद अपने खिलाफ लगाए गए ज्यादातर आरोप कबूल कर चुका है जिसमें शारीरिक संबंध बनाना और मसाज कराना शामिल है. नवीन अरोड़ा ने कहा कि वो इस मामले में और कुछ नहीं करना चाहिए सिवाय इसके कि चिन्मयानंद अपने किए पर शर्मिंदा है. गौरतलब है कि चिन्मयानंद को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस शाहजहांपुर पुलिस अस्पताल लेकर गई थी क्योंकि उसने कहा था कि उसे घबराहट और कमजोरी महसूस हो रही है.

Shahjahanpur Rape Case Accused Chinmayanand Arrested: शाहजहांपुर रेप केस में बीजेपी के पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद को एसआईटी ने किया गिरफ्तार, कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा

Swami Chinmayanand Health Issues: रेप आरोपी बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद की तबियत खराब, सर पर लटक रही है गिरफ्तारी की तलवार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App